Friday, December 2, 2022
to day news in chandigarh
Homeहिमाचल“बेटी है अनमोल”

“बेटी है अनमोल”

ब्यूरो रिपोर्ट :5 मार्च 2018

राजगढ़ 

दुनिया भर में प्रसीद नारा  “बेटी है अनमोल” के नारे को राजगढ़ क्षेत्र की एक बहुत ही साधरण परिवार में पली बड़ी बेटी डॉ वीना चौहान ने पूर्णतया चरितार्थ कर दिखाया है कहा भी जाता है की बेटियाँ भी अपने माँ –बाप के सपनो को साकार करने में बेटो से कम नहीं होती अक्सर हमारे समाज में अभी भी कई गाँव ,शेहरो  में  बेटियों के प्रति ऐसी धारणा बनी हुई है की बेटियों को ज्यादा नहीं पड़ना चाहिय बल्कि उनकी जल्दी शादी करके उन्हें अपने घर से विदा कर देना चाहिय और घर का ही काम करे उन्हें खुलकर जीने की आजादी नहीं देनी चाहिय , लेकिन हमारे समाज में व्यापत इस धारणा को डॉ वीना  चौहन ने गलत सिद कर दिया है | जी हां हम बात कर रहे है जिला सिरमौर राजगढ़ के नजदीक गाँव बेहड़ की रहने वाली डॉ वीना चौहन पुत्री गीता राम चौहन की | जिन्होंने पहले ही एटेम्प्ट में डॉ की नोकरी के लिय कमीशन क्वालीफाई करके अपने राजगढ़ क्षेत्र का नाम रोशन कर दिखाया है |

15 अगस्त 1990 में जन्मी  डॉ वीना की इस शानदार उपलब्धी के लिय उसके घर में रिश्तेदारों द्वारा बधाई देने से ख़ुशी का मोहाल बना हुआ है | बता दे की डॉ वीना  की शिक्षा राजगढ़ के एक  सरकारी स्कुल से शुरू हुई थी,राजगढ़ में पांचवी कक्षा उतीर्ण करने के बाद वीना  का चयन जवाहर नवोदय विद्यालय नाहन के लिए हुआ | इन्होने दस जमा दो तक की शिक्षा नवोदय विद्यालय नाहन और पाण्डिचेरी से पूर्ण की | इसके बाद  डॉ वीना  ने पीएमटी की परीक्षा दी जिसमे उनका चयन दन्त चिकत्सक के प्रिशिक्षण के लिए हुआ |

इन्होने शिमला में स्थित  इन्दिरा गाँधी आयुर्विज्ञान एवं स्वास्थ्य संसथान (आई जी एम सी )से दंत चिकत्सक का शिक्षण सफलतापूर्वक प्राप्त किया | और हाल ही में डॉ वीना  ने इसी संसथान में दंत चिकत्सक के रूप में सेवाए देवी प्रारम्भ कर दी है डॉ वीना अपनी इस कामयाबी के लिए अपने माता – पिता ,गुरुजनों एवं भाई –बहनो को अपना प्रेरणा स्त्रोत मानती है जिनके मार्गदर्शन में बेहद साधारण ग्रामीण परिवार की बेटी यह कामयाबी हासिल कर सकी | डॉ वीना के पिता गीता राम हिमाचल स्वास्थ्य विभाग से चीफ फार्मासिस्ट के पद से सेवानिवृत हो हुए है और माता घर में ग्रहणी है जबकि बड़े भाई सूर्यकांत चौहन प्रदेश पुलिस विभाग में अपनी सेवाए दे रहे है |

इस बारे जब डॉ वीना से बात की गई तो उन्होंने बताया की जब से उन्होंने होश संभाला है तब से लेकर लोगो की सेवा करने का जनून उनके दिमाग में सवार था और मेरा सपना है की में हर गरीब और आम जनता की एक चिकत्सक के रूप में सेवा कर सकू |

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments