Friday, October 7, 2022
to day news in chandigarh
HomeUncategorizedधूम्रपान करने वालों को फेफड़ों को डिटॉक्सिफाई करते हैं ये 6 आहार,...

धूम्रपान करने वालों को फेफड़ों को डिटॉक्सिफाई करते हैं ये 6 आहार, जरूर करें सेवन

ऑय 1 न्यूज़ 3 दिसम्बर 2018 (रिंकी कचारी) धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है, ये बात सभी जानते हैं मगर फिर भी बहुत सारे लोग सिगरेट की लत नहीं छोड़ पाते हैं।

  • सिगरेट में मौजूद निकोटिन का फेफड़ों पर बुरा प्रभाव पड़ता है।
  • कुछ ऐसे आहार हैं, जो आपके फेफड़ों को डिटॉक्सिफाई करते हैं।
  • लहसुन में एसिलिन होता है, जो बहुत पावरफुल एंटीऑक्सिडेंट है।            वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो सिगरेट पीना छोड़ देते हैं मगर उनके फेफड़ों को हुए नुकसान को कम नहीं कर सकते हैं। सिगरेट और अन्य सभी तंबाकू उत्पादों में निकोटिन होता है, जो फेफड़ों के लिए जहर का काम करता है। फेफड़ों में ये घातक पदार्थ जमा होकर आपकी जिंदगी को खतरे में डालता है। हालांकि कुछ ऐसे आहार हैं, जो आपके शरीर को डिटॉक्सिफाई करते हैं और सिगरेट द्वारा लिए गए निकोटिन से होने वाले नुकसान को कम करते हैं। मगर फिर भी आपको सिगरेट नहीं पीना चाहिए। आइए आपको बताते हैं कि किन आहारों का सेवन निकोटिन के प्रभाव को कम करता है।

हल्दी
हल्दी को दुनियाभर में गोल्डन स्पाइस के नाम से जाना जाता है। हल्दी में मौजूद कर्क्यूमिन नामक तत्व शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। हल्दी में एंटीबैक्टीरियल और एंटीबायोटिक गुण होते हैं इसलिए ये शरीर के इंफेक्शन, दर्द और सूजन को कम करता है। इसके साथ ही हल्दी का सेवन आपके फेफड़ों को डिटॉक्सिफाई करता है और निकोटिन के प्रभाव को कम करता है।

लहसुन
लहसुन का सेवन शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लहसुन में एसिलिन नामक तत्व होता है, जो बहुत पावरफुल एंटीऑक्सिडेंट है। इसके सेवन से फेफड़ों में मौजूद तरल पदार्थ बाहर निकल जाते हैं, जिससे फेफड़े साफ हो जाते हैं। इसके अलावा रोजाना लहसुन खाने से दिल की बीमारियों और कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से भी बचाव रहता है। लहसुन का सेवन धमनियों में जमे कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है।

गोभी और ब्रोकली
गोभी और ब्रोकली का सेवन भी सिगरेट पीने वालों के लिए फायदेमंद माना जाता है। गोभी परिवार की सभी सब्जियों में क्लोरोफिल पाया जाता है, जो डिटॉक्सिफायर की तरह काम करता है और ब्लड को फिल्टर करके गंदगी को बाहर निकालता है। ब्रोकली को सब्‍जी बनाकर या सलाद के रूप में भी खाया जा सकता है। इसे खाने से शरीर में पोषक तत्‍वों की कमी पूरी हो जाती है। इसमें सल्‍फोराफाने होता है जो फेंफड़ों को स्वस्थ व मजबूत बनाता है। इसे ऑलिव ऑयल के साथ सलाद के रूप में खाने से बेहद फायदा होता है।

गाजर का सेवन
गाजर का जूस, शरीर के लिए बेहद लाभदायक होता है। गाजर में मोजूद पोष्टिक व एंटीऑक्सीडेंट्स खून से विषाक्‍त तत्‍वों को बाहर कर देते हैं। गाजर के जूस में विटामिन ए, के, सी और बी आदि होते हैं जो शरीर को धूम्रपान छोड़ने के बाद रिहील कर देते हैं।

पर्याप्त पानी पिएं
धूम्रपान करने से शरीर में टॉक्सिन्स ज्यादा जमा होते हैं। इसलिए एक दिन में कम से कम 3-4 लीटर पानी जरूर पिएं। इससे शरीर के विषाक्‍त तत्‍व बाहर निकल जाते हैं और शरीर हाइड्रेट रहता है। साथ ही पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से किडनी भी स्‍वस्‍थ रहती है।

खट्टी फल और सब्जियां
कीवी, स्‍ट्रॉबेरी और नींबू आदि खट्टे फलों में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है, इसके अलावा इनमें ऐसे लाभदायक गुण भी होते हैं जिससे आपके शरीर से निकोटिन बाहर हो जाता है। इसका आमतौर पर भी सेवन करना लाभदायक होता है

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments