Tuesday, August 16, 2022
to day news in chandigarh
Homeहरियाणाअब हरियाणा में अकाली दल लड़े गी चुनाव पार्टी ने हरियाणा के...

अब हरियाणा में अकाली दल लड़े गी चुनाव पार्टी ने हरियाणा के लिए तेयारिया करदी शुरू

आई 1 न्यूज़ 23 जनवरी 2018 (अमित सेठी ) हरियाणा में आने वाले विधानसभा चुनावों के लिए शिरोमणि अकाली दल लामबंद हो रहा है और वहां पर चुनाव लड़ने के लिए तैयारी के रूप में अपनी पार्टी को हरियाणा के लिए तैयार कर रहा है। आज इसी सिलसिले में शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने हरियाणा शिरोमणि अकाली दल के नेताओं के साथ एक अहम मीटिंग की जिसमें यह फैसला लिया गया कि आने वाले हरियाणा विधानसभा चुनावों में पार्टी अपने दम पर वह चुनाव लड़ेगी और चुनाव में नए ऑप्शन तलाश करेगी जिसके लिए कमेटियों का गठन कर दिया गया है। इस मीटिंग में पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल के इलावा विक्रम मजीठिया और  प्रेम सिंह चंदूमाजरा, सुरजीत सिंह रखड़ा दलजीत सिंह चीमा तथा अन्य सीनियर अकाली लीडरशिप शामिल हुई।

पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल ने सिद्धू मामले पर अपना प्रतिक्रमण देते हुए कहा के सिद्धू किसी का कभी वफादार नहीं हुआ और सिद्धू बम अभी फटना बाकी है सुखबीर बादल ने कहा कि हम हरियाणा में आने वाले चुनाव को लड़ेंगे और इसी सिलसिले में आज हमने मीटिंग रखी थी पद्मावती फिल्म पर बोलते हुए सुखबीर बादल ने कहा कि फिलम बनाने से पहले लोगों की भावनाओं को समझना चाहिए और फिर फिल्म का निर्माण करना चाहिए। विधानसभा की प्रिविलेज कमेटी के नोटिस के बारे में बोलते हुए सुखबीर बादल ने कहा कि अभी मुझे वह नोटिस मिला नहीं है।
नवजोत सिंह सिद्धू कोई ना कोई चांद चढ़ाएंगे यह पहले ही पता था ।सिद्धू साहब मैं ना मानूं की रट लगा कर रखते हैं । आप आगे आगे देखिए क्या होता है । यह कहना चाह प्रोफेसर प्रेम सिंह चंदूमाजरा का जो आज चंडीगढ़ में अकाली दल के मुख्यालय में हरियाणा शिरोमणि अकाली दल की मीटिंग में हिस्सा लेने आए थे उन्होंने कहा कि हरियाणा के लोगों की पुरजोर मांग पर आज हमने मीटिंग में यह फैसला किया है कि हम लोग हरियाणा के चुनाव लड़ेंगे और इसके लिए हमने आज आब्जर्वर भी नियुक्त कर दिए हैं जो यह देखेंगे कि वहां की समस्याएं क्या है और किन पार्टियों के साथ हमने बातचीत करनी है। चंदूमाजरा ने सुखबीर बादल को प्रिविलेज कमेटी द्वारा नोटिस भेजने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह कोई बड़ी बात नहीं है ।जब किसी को किसी की बात पर ऐतराज होता है तो वह ऐसा कर सकता है।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments