अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन की दोहरी नीति पर चीन ने सधी हुई प्रतिक्रिया दी है ।

0
350

आई 1 न्यूज़ अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन की दोहरी नीति पर चीन ने सधी हुई प्रतिक्रिया दी है और कहा है कि दोनों देश मिलकर बड़ी उपलब्धियां हासिल कर सकते हैं और मतभेदों की तुलना में उनके साझा हित ज्यादा महत्व रखते हैं। बाइडेन ने कहा है कि वह बीजिंग की चुनौतियों का सामना करने के साथ ही उसके साथ अमेरिकी हितों को आगे बढ़ाने के लिए सहयोग करेंगे। विदेश नीति पर अपने पहले संबोधन में अमेरिका के राष्ट्रपति बाइडेन ने गुरुवार को चीन को अमेरिका का सर्वाधिक गंभीर प्रतिद्वंद्वी करार दिया और मानवाधिकारों, बौद्धिक संपदा तथा आर्थिक नीत पर बीजिंग से मुकाबला करने का संकल्प जताया। बाइडेन ने कहा कि उनका प्रशासन अपनी समृद्धि, सुरक्षा और लोकतांत्रिक मूल्यों को हमारे सबसे गंभीर प्रतिद्वंद्वी चीन से मिलने वाली चुनौतियों से सीधे मुकाबला करेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि जब अमेरिका के हित की बात आएगी तो वह बीजिंग के साथ काम भी करने के लिए तैयार हैं। बाइडेन के बयान पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, चीन और अमेरिका बड़े देश के तौर पर साझा हितों और दुनिया में शांति, स्थिरता और समृद्धि लाने में भूमिका निभा सकते हैं। वांग ने कहा, यह स्वाभाविक है कि हमारे बीच मतभेद हैं लेकिन हमारे साझा हित ज्यादा महत्वपूर्ण हैं। हमारे सहयोग से बड़ी उपलब्धियां हासिल हो सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here