साधु सिंह धर्मसोत द्वारा नाभा में सरकारी स्कूल के उद्घाटन के समय नीव पत्थर पर अपना नाम तीसरे नंबर पर होने पर शिक्षकों को सस्पेंड करने की धमकी दी

0
917

अमित सेठी 14 अप्रैल 2017 चंडीगढ़ साधू सिंह धर्मसोत द्वारा नाभा में सरकारी स्कूल के उद्घाटन के समय नीव पत्थर पर अपना नाम तीसरे नंबर पर होने पर शिक्षकों को सस्पेंड करने की धमकी के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में पहले दिन ही अपनी मीटिंग में यह फैसला लिया था कि कोई नींव पत्थर नहीं लगाया जाएगा और यह यदि लगाया जाएगा उस पर किसी का नाम नहीं होगा। यह पूरी तरह कांग्रेस के मुख्यमंत्री द्वारा बनाए गए नियमों की अवहेलना है। कहने और करने में साफ फर्क दिखाई दे रहा है।

कैनेडियन डिफेंस मिनिस्टर हरजीत सिंह सज्जन को ना मिलने के पंजाब के मुख्यमंत्री के ऐलान के बारे में बोलते हो गए चंदूमाजरा ने कहा कि यह पंजाब के लिए बहुत बदकिस्मती की बात है कि उस देश के डिफेंस मिनिस्टर को मुख्यमंत्री मिलना नहीं चाहते जहां संसद में कई पंजाबी लोगों की भागीदारी है। जब अमृतसर श्री हरमंदिर साहिब में हरजीत सिंह माथा टेकने आएंगे तो शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी उनका भरपूर स्वागत करेगी। चंदूमाजरा के अनुसार मुख्यमंत्री कैनेडा से अपनी निजी रंजिश निकाल रहे हैं जब चुनावों के दिनों में उन्हें वहां चुनावी मीटिंग करने की इजाजत नहीं मिली थी।

वाइट प्रेम सिंह चंदूमाजरा सांसद और प्रवक्ता शिरोमणि अकाली दल

सुखपाल खैहरा ने मनप्रीत बादल और उसके सहयोगियों द्वारा हेलीकॉप्टर द्वारा तलवंडी साबो जाने की निंदा करते हुए कहा कि मनप्रीत बादल मैनिफेस्टो कमेटी के चेयरमैन होने के बावजूद मेनिफेस्टो में लिखी हुई बातों को झुठला रहे हैं तो इससे बड़ी बदकिस्मती क्या हो सकती है। इस से साफ स्पष्ट होता है कि इन की कहनी और कथनी में बहुत अंतर है। लोग इन्हें इसकी सजा जरूर देंगे और जो यह कर रहे हैं वह VIP कल्चर को घटाने की बजाए बढ़ा रहे हैं और बादलों के रास्ते पर चल पड़े हैं।

हरजीत सिंह सज्जन को कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा ना मिलने पर बोलते हुए सुखपाल खैहरा ने कहा कि यह बड़ी बदकिस्मती की बात है कि 50 लाख लोगों द्वारा चुने गए प्रतिनिधि को और वह भी जो अपनी कम्युनिटी का है ना मिलना दुर्भाग्य की बात है उनका स्वागत करने से दुनिया में सिक्खों की इज्जत बढ़ेगी । सिर्फ अपनी निजी दुश्मनी को निकालने के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ऐसा बयान दिया है। चुनाव के दिनों में कनाडा सरकार ने सभी राजनीतिक पार्टियों को पैसा इकट्ठा करने और राजनैतिक मीटिंग में करने पर रोक लगाई थी जिसके कारण कैप्टन अमरिंदर सिंह ऐसा कर रहे हैं ।कैप्टन अमरिंदर सिंह को चाहिए कि वह अपना दिया हुआ बयान वापस ले यदि ऐसा नहीं करते तो हम हरजीत सिंह सज्जन को बुला कर समूह पंजाबियों की तरफ से उनका स्वागत करेंगे।

श्री आनंदपुर साहिब से शिरोमणि अकाली दल के सांसद प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि आपने चुनाव मेनिफेस्टो में है कांग्रेस ने यह ऐलान किया था कि सरकारी हेलीकॉप्टर का प्रयोग नहीं किया जाएगा पर अब यह दिल्ली से चंडीगढ़ और चंडीगढ़ से तलवंडी साबो हेलीकॉप्टर की सैर कर रहे हैं। इसके अलावा इतने बड़े बैसाखी के कार्यक्रम में कैप्टन अमरिंदर सिंह का यह कहकर शामिल ना होना के उनके पैर में चोट लगी हुई है कुछ अटपटा लगता है क्योंकि दिल्ली में निवेशकों से मिलने के लिए भी तो यह लोग गए थे।

वाइट सुखपाल सिंह खैहरा आम आदमी पार्टी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here