Wednesday, August 17, 2022
to day news in chandigarh
Homeपंजाबसुखबीर बादल द्वारा पार्टी कार्यालय में 1984 सिख कत्लेआम को लेकर प्रेस...

सुखबीर बादल द्वारा पार्टी कार्यालय में 1984 सिख कत्लेआम को लेकर प्रेस वार्ता की गई

आई 1 न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट 10 फरवरी 2018 (अमित सेठी)

अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल द्वारा पार्टी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई जिस में उनके साथ दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मंजीत सिंह जीके भी मौजूद रहे

अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने कहा कि दिल्ली सिख कत्लेआम को लेकर 33 साल से अधिक का समय हो चुका है और हम शुरू से ही कह रहे थे कि इसमें राजीव गांधी और गांधी परिवार की साजिश है और जगदीश टाइटलर ने खुद एक टीवी इंटरव्यू में माना है कि उस समय राजीव गांधी उनके साथ थे जबकि जस्टिस नानावती की रिपोर्ट में भी कहा गया कि जहां-जहां राजीव गांधी गए वहां सबसे अधिक लोग मारे गए।उन्होंने कहा की इन 34 सालों में ज्यादातर देश मे कांग्रेस का राज रहा इसलिए कभी भी इसमें राजीव गांधी की भूमिका की जांच नही हुई और अब जो नया स्टिंग वीडियो सामने आया है उसमें जगदीश टाइटलर खुद कह रहे है कि मैंने 100 सिख मारे

सुखबीर बादल ने कहा कि अब जो नए सबूत सामने आए है उसे लेकर अकाली दल ने होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह, पीएम नरेंद्र मोदी ,सीबीआई प्रमुख और दिल्ली पुलिस प्रमुख से मुलाकात कर उन्हें सबूत सौंपे है जिसपर होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने यह सभी सबूत जस्टिस ढींगरा कमीशन को सौंपकर इसकी जांच का भरोसा दिया है ।जिसके बाद अब उम्मीद जगी है कि इसके मुख्य साजिशकर्ता सामने आएंगे

सुखबीर बादल ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की भूमिका पर भी सवाल उठाये । उन्होंने कहा इस मामले के एक अहम गवाह अभिषेक वर्मा का नार्को टेस्ट नही होने दिया जा रहा जबकि वह पिछले तीन माह से कह रहा है कि इसमें मेरा नार्को टेस्ट करवाया जाए। सुखबीर बादल ने कहा कि अगर टाइटलर सच्चे है तो अपना नार्को टेस्ट क्यों नही करवा

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान मंजीत सिंह जीके ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एसआईटी को उनकी और से सौंपे गए सबूत रेफर किये है और इस सीडी में टाइटलर खुद मान रहा है कि उसने 100 सिखों का कत्लेआम किया।उसने खुद माना कि उसने 150 करोड़ अपने कुछ लोगो को दिए और इसमें यह भी कहा गया कि मेरे बेटे के स्विस बैंक में एकाउंट है और न्यायिक प्रणाली पर भी दवाब बनाने की बात जगदीश टाइटलर ने मानी है। मंजीत सिंह जीके ने कहा की यह सभी बातें अहम सबूत है जो जांच का विषय है
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments