लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत कार्यशाला आयोजित

ब्यूरो रिपोर्ट :संदीप कश्यप

लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत उपभोक्ताओं के हक एवं निवारण के लिए आज एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला की अध्यक्षता जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक सोलन यादविन्द्र पाल ने की।

उन्होंने कहा कि लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के सफल क्रियान्वयन के लिए खण्ड, जिला व राज्य स्तर पर सतर्कता समितियां गठित की गई हैं। इन समितियों में जनप्रतिनिधियों तथा पंचायतीराज संस्थाओं की भागीदारी सुनिश्चित बनाई गई है।

यादविन्द्र पाल ने कहा कि विभाग द्वारा टाॅल फ्री नम्बर 1967 अथवा इंटरनेट पर ूूूण्मचकेण्बवण्पद पर उपभोक्ता अपनी शिकायतें व अन्य विभागीय योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर सकता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में पीडीएस उपभोक्ताओं के लिए प्रयोग में लाई जा रही पीओएस (प्वाइंट आॅफ सेल) मशीन को पूर्ण रूप से बायोमैट्रिक आधार पर लागू किया जाएगा।

उन्होंने सभी डिपूधारकों को निर्देश दिए कि वह अपने डिपुओं पर सूचना पट्ट के माध्यम से डिपुओं के खुलने व बंद करने का समय, टाॅल फ्री नम्बर, विभागीय वेबसाईट, राष्ट्रीय उपभोक्ता हैल्पलाईन नम्बर इत्यादि अन्य जानकारी अंकित कर लगवाना सुनिश्चिन बनाएं। उन्होंने कहा कि एक जुलाई, 1987 से पूर्व जन्मे नागरिक, जो मूल रूप से भारतीय हैं, राशन कार्ड की पात्रता के लिए योग्य होंगे।

उन्होंने कार्यशाला के माध्यम से डिपुधारकों को पीओएस मशीन में आ रही दिक्कतों के समाधान की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के तहत अन्त्योदय श्रेणी के परिवारों के लिए 20 किलो ग्राम गन्दम प्रति 2 रुपये किलो व 15 किलो ग्राम चावल 3 रुपये प्रति किलो की दर से उपलब्ध करवाया जा रहा है।

कार्यशाला में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निरीक्षक ममता शर्मा तथा जिले के डिपूधारक उपस्थित थे।