Saturday, October 1, 2022
to day news in chandigarh
Homeहिमाचलमुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इराक में मारे गए हिमाचलियों के पीड़ित परिवारों...

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इराक में मारे गए हिमाचलियों के पीड़ित परिवारों को चार-चार लाख रुपये की मदद देने का एलान

ब्यूरो रिपोर्ट :22 मार्च 2018
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इराक के मोसुल में मारे गए चार हिमाचलियों के पीड़ित परिवारों को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक मदद देने का एलान किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मृतकों के पार्थिव अवशेष जल्द ही उनके परिजनों तक पहुंचाए जाएंगे। हिमाचल सरकार विदेश मंत्रालय से संपर्क बनाए हुए है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने मृतकों के परिजनों से फोन पर बातचीत भी की है। ठाकुर ने कहा कि सरकार उनके साथ है और हरसंभव मदद करेगी। उन्होंने कांगड़ा जिला के धर्मशाला के निकट पास्सू गांव के मृतक अमन के बड़े भाई रमन, लंज के मृतक इंद्रजीत सिंह के पिता परदेसी राम, फतेहपुर के मृतक संदीप कुमार के पिता दिलावर सिंह और मंडी जिला के ग्राम पंचायत बायला के हेमराज के पिता बेलीराम से बातचीत की।

उधर, नड्डा ने बताया कि शीघ्र ही विदेश मंत्रालय पार्थिव अवशेषों को भारत लाने के लिए तय की गई समयसीमा की घोषणा करेगा। प्रदेश सरकार से चर्चा करके एक विशेष विमान द्वारा अमृतसर हवाई अड्डे पर लाया जाएगा और उसके बाद उनके पैतृक गांवों में अवशेष पहुंचाए जाएंगे। इस सारे ऑपरेशन का संचालन विदेश मंत्रालय करेगा।

हेमराज के घर लगा रिश्तेदारों का तांता

सुंदरनगर (मंडी)। सुंदरनगर की बायला के हेमराज के घर पर शोक जताने के लिए रिश्तेदारों का तांता लगा हुआ है। हर कोई हेमराज की पत्नी व उनके माता-पिता को सांत्वना दे रहा है। सभी की निगाहें इस बात पर लगी हैं कि कब हेमराज के पार्थिव अवशेष घर पहुंचेंगे ताकि पूरे रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया जा सके।

नहीं आया कोई बड़ा नेता और अफसर 
लंज के इंद्रजीत, धर्मशाला के अमन कुमार और फतेहपुर के धमेटा के संदीप कुमार के परिजनों के घरों में मंगलवार और बुधवार को कोई बड़ा नेता या अफसर नहीं आया। डीसी कांगड़ा ने भी परिजनों को फोन कर ही ढांढस बंधाया। एसडीएम भी सिर्फ धमेटा ही गए, बाकी जगह तहसीलदार और नायब तहसीलदार ही ढांढस बंधाने गए।

धमेटा के संदीप के जीजा बलवान ने कहा कि करीब दो बजे केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा और साढ़े तीन बजे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने फोन कर परिवार का हाल-चाल जाना। संदीप के पिता ने अपनी बहू के लिए स्थायी नौकरी की मांग की ताकि परिवार का पालन पोषण हो सके। धर्मशाला के पास्सू गांव के अमन के भाई रमन ने बताया कि भाई के पार्थिव अवशेष जल्द से जल्द घर तक पहुंचाए जाएं।

कदरेटी के इंद्रजीत के पिता परदेसी राम ने बताया कि प्रदेश सरकार इंद्रजीत के पार्थिव अवशेषों को घर तक पहुंचाएगी। परदेसी राम ने कहा कि देहरा के विधायक होशियार सिंह व सांसद अनुराग ठाकुर ने उनके परिवार से किसी प्रकार का संपर्क नहीं किया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments