Saturday, October 1, 2022
to day news in chandigarh
Homeeye1specialपंजाब कल्चर और टूरिज्म विभाग और पंजाब आर्ट काउंसिल के सहयोग के...

पंजाब कल्चर और टूरिज्म विभाग और पंजाब आर्ट काउंसिल के सहयोग के साथ एक कमीशन का गठन किया है

आई 1 न्यूज़ 31 मार्च 2018 ( अमित सेठी )पंजाबी गानों में अश्लीलता ड्रग्स को बढ़ावा देना और  हिंसा को देखते हुए पंजाबी गानों में अश्लीलता ड्रग्स को बढ़ावा देना और  हिंसा को देखते हुए पंजाब कल्चर और टूरिज्म विभाग और पंजाब आर्ट काउंसिल के सहयोग के साथ एक कमीशन का गठन किया है जो इन गानों पर चेक रखेगा और ऐसे सिंगर  को इस तरह के गानों को प्रमोट और ना गाने को लेकर जागरूक करेगा। दरअसल लंबे समय से इस पर चर्चा चल रही थी कि इस तरह की दोनों से पंजाबी सभ्यता और संस्कृति को ठेस पहुंच रही है और यह युवाओं के बीच गलत तरीके की पब्लिसिटी कर रहा है इसकी जानकारी पंजाब के कल्चर एंड टूरिज्म डिपार्टमेंट के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पत्रकार वार्ता के दौरान दी। पत्रकारों को संबोधित करते हुए कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि पंजाब तीनों की तीनों की जगह है गुरु की जगह है जहां की मिसाल पूरे देश में और विदेश में दी जाती है अगर यही का युवा गलत चीजें सीखेगा तो आने वाली पीढ़ी उसे क्या सीखेगी उन्होंने कहा कि आज के समय में पंजाबी गानों में औरतों के ऊपर अश्लील गाने बनते हैं हथियारों को प्रमोट किया जाता है और ऐसे गाने बनते हैं जिससे कि क्रिमिनल प्रवृत्ति के लोग और ज्यादा उत्साहित होते हैं और युवाओं को इस तरह के गाने ड्रग्स और नसों की तरफ धकेल रहा है जिसको देखते हुए विभाग ने यह निर्णय लिया है कि इस तरह के गानों पर लगाम लगाने के लिए एक कमीशन गठित की है जो कि 14 दिनों में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी कि कौन-कौन से सिंगर हैं जिस तरह के गाने ज्यादा गाते हैं और उनकी क्या प्रगति है इसको देखते हुए सभी की राय मांगी जाएगी और एक बार उनको वार्निंग दी जाएगी अगर दोबारा फिर से वही सिंगर इस तरह की गलती करता है तो उसके खिलाफ कानूनी धाराओं की तरह FIR दर्ज भी की जा सकती है क्योंकि विभाग का मकसद है पंजाब के युवाओं को अच्छी शिक्षा देना। सिद्धू ने बताया कि डिपार्टमेंट ऑफ टूरिज्म एंड कल्चर ऑफ एयर द्वारा बनाए गए कमीशन में हालांकि अभी तक कितने सदस्य होंगे इस बारे में अभी चर्चा करनी है लेकिन इसके चेयरमैन खुद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह होंगे और वाइस चेयरमैन नवजोत सिंह सिद्धू खुद होंगे उन्होंने कहा कि कमेटी का मुख्य मकसद है पंजाब में अश्लीलता ना पहले चाहे वह सिंगिंग के जरिए हो या पब्लिशिंग के जरिए हो लेकिन युवा जो भी सीखें वह पॉजिटिव भी सीखें और किसी भी तरह की गलत आदतें उसमें ना हो उन्होंने बताया कि इसके लिए सोशल मीडिया के आईटी एक्ट को भी देखा जाएगा क्योंकि कई सिंगर अपने गाने YouTube पर लॉन्च करते हैं और यदि उन्हें अश्लीलता पाई जाती है तो उन पर भी कानूनी कार्यवाही की जाएगी हालांकि उन्होंने साफ किया कि fir केवल उन्हीं के लिए होगी जो बार-बार वार्निंग देने के बाद भी इस तरह के गाने गाते रहेंगे वहीं कहीं सिंगर जो विदेशों में रहते हैं उनके बारे में बात करते हुए नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि ऐसे सिंगर से भी एक बार बात की जाएगी क्योंकि वह मेरे छोटे हैं और उन्हें समझाना फर्ज है इसलिए उन्हें भी एक बारी इस बारे में जानकारी दी जाएगी लेकिन यदि आप फिर भी नहीं माने तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी। जो इन गानों पर चेक रखेगा और ऐसे सिंगर  को इस तरह के गानों को प्रमोट और ना गाने को लेकर जागरूक करेगा। दरअसल लंबे समय से इस पर चर्चा चल रही थी कि इस तरह की दोनों से पंजाबी सभ्यता और संस्कृति को ठेस पहुंच रही है और यह युवाओं के बीच गलत तरीके की पब्लिसिटी कर रहा है इसकी जानकारी पंजाब के कल्चर एंड टूरिज्म डिपार्टमेंट के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पत्रकार वार्ता के दौरान दी। पत्रकारों को संबोधित करते हुए कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि पंजाब तीनों की तीनों की जगह है गुरु की जगह है जहां की मिसाल पूरे देश में और विदेश में दी जाती है अगर यही का युवा गलत चीजें सीखेगा तो आने वाली पीढ़ी उसे क्या सीखेगी उन्होंने कहा कि आज के समय में पंजाबी गानों में औरतों के ऊपर अश्लील गाने बनते हैं हथियारों को प्रमोट किया जाता है और ऐसे गाने बनते हैं जिससे कि क्रिमिनल प्रवृत्ति के लोग और ज्यादा उत्साहित होते हैं और युवाओं को इस तरह के गाने ड्रग्स और नसों की तरफ धकेल रहा है जिसको देखते हुए विभाग ने यह निर्णय लिया है कि इस तरह के गानों पर लगाम लगाने के लिए एक कमीशन गठित की है जो कि 14 दिनों में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी कि कौन-कौन से सिंगर हैं जिस तरह के गाने ज्यादा गाते हैं और उनकी क्या प्रगति है इसको देखते हुए सभी की राय मांगी जाएगी और एक बार उनको वार्निंग दी जाएगी अगर दोबारा फिर से वही सिंगर इस तरह की गलती करता है तो उसके खिलाफ कानूनी धाराओं की तरह FIR दर्ज भी की जा सकती है क्योंकि विभाग का मकसद है पंजाब के युवाओं को अच्छी शिक्षा देना। सिद्धू ने बताया कि डिपार्टमेंट ऑफ टूरिज्म एंड कल्चर ऑफ एयर द्वारा बनाए गए कमीशन में हालांकि अभी तक कितने सदस्य होंगे इस बारे में अभी चर्चा करनी है लेकिन इसके चेयरमैन खुद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह होंगे और वाइस चेयरमैन नवजोत सिंह सिद्धू खुद होंगे उन्होंने कहा कि कमेटी का मुख्य मकसद है पंजाब में अश्लीलता ना पहले चाहे वह सिंगिंग के जरिए हो या पब्लिशिंग के जरिए हो लेकिन युवा जो भी सीखें वह पॉजिटिव भी सीखें और किसी भी तरह की गलत आदतें उसमें ना हो उन्होंने बताया कि इसके लिए सोशल मीडिया के आईटी एक्ट को भी देखा जाएगा क्योंकि कई सिंगर अपने गाने YouTube पर लॉन्च करते हैं और यदि उन्हें अश्लीलता पाई जाती है तो उन पर भी कानूनी कार्यवाही की जाएगी हालांकि उन्होंने साफ किया कि fir केवल उन्हीं के लिए होगी जो बार-बार वार्निंग देने के बाद भी इस तरह के गाने गाते रहेंगे वहीं कहीं सिंगर जो विदेशों में रहते हैं उनके बारे में बात करते हुए नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि ऐसे सिंगर से भी एक बार बात की जाएगी क्योंकि वह मेरे छोटे हैं और उन्हें समझाना फर्ज है इसलिए उन्हें भी एक बारी इस बारे में जानकारी दी जाएगी लेकिन यदि आप फिर भी नहीं माने तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments