Friday, October 7, 2022
to day news in chandigarh
Homeहिमाचलशिमला के कई क्षेत्रों में  हुई बर्फबारी के बाद जनजीवन सामान्य बनाने...

शिमला के कई क्षेत्रों में  हुई बर्फबारी के बाद जनजीवन सामान्य बनाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा  किये जा रहे दृढ़ प्रयास | 

आई 1 न्यूज़ चैनल (अभिषेक धीमान) चंडीगढ़, 13 दिसंबर:चंडीगढ़ – उपायुक्त शिमला अमित कश्यप ने शिमला शहर और उपमंडल स्तर के सभी अधिकारियों को मौके पर जाकर निरीक्षण करने तथा जिन स्थानों में बर्फबारी के कारण यातायात बाधित हुआ है, उसे सामान्य बनाने के लिए भरसक प्रयास करने के निर्देश दिये हैं। उपायुक्त ने उपमंडलाधिकारी रामपुर, रोहड़ू, चैपाल और ठियोग व अन्य उपमंडलाधिकारियों को विद्युत आपूर्ति सामान्य बनाने तथा परिवहन व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिए विभिन्न कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने राष्ट्रीय उच्च मार्ग के अधिकारियों को चिन्हित स्थलों में बर्फ हटाने के लिए मशीने तैनात करने के निर्देश दिये हैं, ताकि जरूरत पड़ने पर समयबद्ध तरीके से यातायात को सुचारू बनाया जा सके। उन्होंने सभी उपमंडलाधिकारियों को सम्पर्क मार्गों से बर्फ हटाने के लिए लोक निर्माण विभाग तथा अन्य विभागों के समन्वय से सभी ऐहतियाती कदम उठाने के निर्देश दिये हैं। अमित कश्यप ने कहा कि बर्फबारी के दौरान जनजीवन सामान्य बनाये रखने के लिए जिला प्रशासन शिमला द्वारा स्नो मैनुअल के तहत सभी कदम समयबद्ध उठाए गए हैं। शिमला शहर को पांच सैक्टर में विभाजित कर नोडल अधिकारी तैनात किये गये हैं तथा समन्वय के लिए जिला के वरिष्ठ अधिकारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है। सभी विभागों को आपसी समन्वय के लिए जरूरी दिशा-निर्देश दिये गये हैं। पेड़ गिरने या अन्य किसी घटना के कारण सड़क मार्ग, यातायात या विद्युत आपूर्ति बहाल करने के लिए सभी आवश्यक तैयारियां की गई हैं। जिला में आपातकालीन परिचालन केंद्र सुचारू किया गया है। यहां स्थापित दूरभाष नम्बर 1077 के माध्यम से विभिन्न विभागों में समन्वय तथा आम जनता भी आपातकालीन सहायता प्राप्त करने तथा विभिन्न जानकारियां प्रशासन को प्रदान कर सकती है। उन्होंने बताया कि जिला में सभी क्षेत्रों में खाद्यान्न समुचित मात्रा में उपलब्ध हैं। जिला तथा शिमला शहर के विभिन्न क्षेत्रों में विद्युत व जलापूर्ति सामान्य है। शिमला शहर में आज 44 हजार 836 लीटर दूध और नौ हजार पैकेट ब्रैड की आपूर्ति की गई है। जिला में इन वस्तुओं की कोई भी कमी नहीं हैं। अमित कश्यप ने शिमला में भ्रमण के लिए आने वाले पर्यटकों से आग्रह किया कि वह शिमला शहर से बाहर तथा ऐसे क्षेत्रों में भ्रमण पर जाने से पहले वहां की सम्पूर्ण जानकारी अवश्य प्राप्त कर लें, जहां बर्फबारी के कारण जनजीवन प्रभावित होने की संभावना हो। उन्होंने कहा कि बर्फ के कारण फिसलन वाली सड़कों पर रेत डाली गई है, ताकि किसी प्रकार की दुर्घटना की संभावना न हो। उन्होंने वाहन चालकों से आग्रह किया कि वह सचेत होकर वाहन चालन करें। उपायुक्त ने बताया कि उपमंडल चैपाल में विभिन्न सड़कों को खोलने के लिए पांच जेसीबी तैनात किये गये हैं। शिमला शहरी क्षेत्र में ढली से नारकण्डा, कोटखाई, रोहड़ू और चैपाल के लिए एचआरटीसी बसें/रूट बहाल करने के लिए दृढ़ प्रयास किये जा रहे हैं। ठियोग से नारकण्डा सड़क छोटे वाहनों के लिए खोल दी गई है।रामपुर में सम्पर्क सड़क ननखड़ी, टुटूपानी, खदराला और बासवानी व कमाडी तथा कुमारसेन में नारकंडा-थानाधार, नारकंडा-दोजा सम्पर्क मार्गों को यातायात के लिए खोलने के प्रयास किये जा रहे हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments