Saturday, April 20, 2024
to day news in chandigarh
HomeLatest Newsढकोली में प्रोग्राम याद ना जाए बीते दिनों की मोहम्मद रफी को...

ढकोली में प्रोग्राम याद ना जाए बीते दिनों की मोहम्मद रफी को संगीत पुष्पांजलि दी।

आई  1 न्यूज़ 2 अगस्त 2023 ढकोली में प्रोग्राम याद ना जाए बीते दिनों की मोहम्मद रफी को संगीत पुष्पांजलि दी ग्लोबल आर्ट क्रिएशन (रजिस्टर्ड) द्वारा पदम श्री मोहम्मद रफी की 43 वीं बरसी के मौके पर और शहीद ऊधम सिंह की याद में, संगीतक सुरमयी शाम ‘याद ना जाए बीते दिनों की’, ढकोली जीरकपुर में एक होटल में आयोजित किया गया. इसमें लगभग 30 गायक-गायकियाओ और 150 संगीत प्रेमियों ने हिस्सा लिया l ग्लोबल आर्ट क्रिएशन के प्रधान और मुख्य संयोजक डॉ मनजीत सिंह बल जो अमृतसर जिले में रफी साहब के जन्म स्थान कोटला सुल्तान सिंह के नजदीक गांव बल कलां से ही हैं, उन्होंने इस प्रोग्राम की टीम, अरविंद गर्ग, सरदार हरजीत सिंह तथा पहुंचे हुए गायक और श्रोताओं को खुशामदीद कहा l और रफी साहब की फोटो पर फूल चढ़ाए l प्रोग्राम की शुरुआत रफी साहब के गीत ‘सुख के सब साथी दुख में ना कोई’ से की. गायक-गायिकाओ की फेहरिसत मे मैडम अमीषा गुसाई, अशोक शर्मा, श्रीमती बबीता शर्मा, बंटी, चंदन राणा, अनिल मित्तल, श्रीमती अनीता रतन, सरदार गुरिंदर सिंह, श्रीमती अनुराधा शर्मा, सोलन से, हरजीत सिंह, चंडीगढ़ से सरदार जयदीप सिंह, जसपाल सिंह और राम आनंद; केवल सरीन, पंचकूला से, मुकेश कुमार, राजकुमार, एसपी दुग्गल, श्रीमती संगीता नागपाल, संजीव धीमान पिंजौर से, स्वामी बागबान कालका, सुरेश कुमार, सरदार विक्रम सिंह ने रफी साहब के गाए हुए गीतों से सबको मंत्र मुग्ध कर दिया l

चलते प्रोग्राम में बीच-बीच में डॉ. मनजीत बल द्वारा रफी साहब के जीवन, उनके संगीत सफर और उनके पंजाबी भाषा में गाए गीतों का भी जिक्र किया l उन्होंने बताया कि रफी साहब उम्र में मेरे से 29 साल बड़े थे और मैं रफी साहब को एक प्रोग्राम में लाइव सुनने गया हूं l

कंचन भल्ला ने रफी के संगीत में पंजाबी फिल्म सस्सी-पुन्नू का रफ़ी और आशा का पंजाबी दो-गाना *दस मेरे दिलबरा वे तु केडे अर्श दा तारा* गाकर खूब वाहवाही बटोरी और गायक थे, कौशल श्रीमती पूनम, सतीश पापुलर और आर सी दास । रफी साहब के दर्द भरे गीत सुनाकर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया और आखिर में श्रीमती अनुराधा शर्मा ने और डॉ बल ने *मेरे यार शब्बा खैर* गाना गाया जिसमें कार्यक्रम के मुख्य अतिथि चंडीगढ़ टैगोर थिएटर के पूर्व निर्देशक सरदार बलकार सिंह के साथ श्रोताओं ने भी डांस किया और बहुत तालियां बजाई. श्रोताओं में कुछ विशेष नाम सूरज भान रिटायर्ड चीफ इंजीनियर, सरदार प्रीतम सिंह एडमिन, सरदार पाल सिंह सुपरिटेंडेंट सिंचाई विभाग पंजाब, ओपी वर्मा, अरविंद गर्ग डिप्टी जनरल मैनेजर पंजाब नेशनल बैंक, दीपक बाली, प्रेम गर्ग समेत बहुत अजीज और मुअजिज शख्सियत हाजिर थे. मंच संचालन कंचन भल्ला, किशोर कुमार ( जानेमाने कलाकार और क्विज़ मास्टर) और संजीव धीमान ने किया l आखिर में अरविंद गर्ग ने कार्यक्रम में मौजुद सभी लोगो का धन्यवाद किया l कुल मिलाकर रफी साहब की याद में यह एक शाम बहुत ही सार्थक और आनंदमयी रही l

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments