Thursday, August 11, 2022
to day news in chandigarh
Homeचंडीगढ़चंडीगढ़ में रिटेल कार्निवल का आयोजन केनरा बैंक द्वारा ।

चंडीगढ़ में रिटेल कार्निवल का आयोजन केनरा बैंक द्वारा ।

आई 1 न्यूज़ चंडीगढ़ 25 फरवरी, 2022 (अमित सेठी )

केनरा बैंक क्षेत्रीय कार्यालय चंडीगढ़ द्वारा चंडीगढ़ में रिटेल कार्निवल का आयोजन केनरा बैंक क्षेत्रीय कार्यालय, चंडीगढ़ द्वारा आज मेला ग्राउंड सेक्टर-34 में ‘रिटेल कार्निवल’ का आयोजन किया गया । इस रिटेल कार्निवल में ट्राइसिटी के प्रतिष्ठित बिल्डरों व कार डीलरों सहित उद्योग जगत के सभी भागीदारों भाग लिया ।
कार्निवल का उद्घाटन केनरा बैंक की कार्यपालक निदेशक सुश्री ए. मणिमेखलै और मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ के गृह सचिव श्री नितिन कुमार यादव, आई.ए.एस. ने किया । इस अवसर पर केनरा बैंक प्रधान कर्यालय के महाप्रबंधक श्री आर.पी. जायसवाल, प्रधान कर्यालय के महाप्रबंधक श्री राजेश कुमार सिंह, केनरा बैंक अंचल कार्यालय, चंडीगढ़ के महाप्रबंधक श्री बी.पी.जाटव, केनरा बैंक क्षेत्रीय कार्यालय, चंडीगढ़ के सहायक महाप्रबंधक श्री रविंद्र कुमार अग्रवाल और केनरा बैंक के अन्य कार्यपालकगण, अधिकारी एवं कर्मचारी  उपस्थित रहे।
सभी अतिथियों ने स्टॉलों का दौरा किया एवं ग्राहकों से बातचीत की । प्रदर्शनी में उपस्थित रिटेलरों ने स्टॉलों पर अपने उत्पादों की मुख्य विशेषताओं को प्रदर्शित किया । कार्निवल में कुल 30 करोड़ रुपये के ऋण मंजूर किये  गये  और रुपये 20 करोड़ के ऋण- संवितरित किये गये । मेले के के माध्यम से आवास –ऋण, वाहन ऋण और शिक्षा-ऋण जैसे विभिन्न सेग्मेंट में 50 करोड़ रुपये की लीड जनरेट की गई ।
कार्निवल में बैंक ने प्रवेश-द्वार पर थर्मल स्कैनिंग , मास्क लगाना, सेनिटाइजेशन स्टेशन लगाना, सामाजिक दूरी व एक-एक कर दर्शकों को प्रवेश देने जैसे सभी कोविड-एहतियाति मानकों का अनुपालन किया ।
बैंक के बारे संक्षिप्त जानकारी में : –
व्यापक रूप से ग्राहकोन्मुखी बैंक के रूप में जाने जाने वाले केनरा बैंक की स्थापना सन् 1906 में महान स्वप्नदृष्टा एवं मानवतावादी श्री अम्मेम्बाल सुब्बाराव पै ने मंगलुरु में की, जो तब एक छोटा-सा पोर्ट टाउन था । केनरा बैंक देश के सार्वजनिक क्षेत्र का तीसरा सबसे बड़ा बैंक है, जिसकी विश्व के अनेक देशों में शाखाएं हैं और यह विगत 115 वर्षों से उत्कृष्ट ग्राहक-सेवा-रिकॉर्ड के साथ, देश की सेवा में समर्पित है ।  केनरा बैंक हमेशा से  ही ग्राहक-सेवा में अग्रणी रहा है । अपने सौ से भी अधिक वर्षों की विकास-यात्रा में बैंक, विकास के अनेकों चरणों से गुजरा है ।  वर्ष 1969 में, विशेषकर राष्ट्रीयकरण के बाद, भोगौलिक उपस्थिति और ग्राहक-संवर्ग के संदर्भ में बैंक ने उल्लेखनीय उन्नति की है । जून, 2006 में बैंक ने भारतीय बैंकिंग उद्योग में अपने सौ वर्ष पूरे किये ।  अपने सौ वर्षों की इस यात्रा में बैंक ने विकास के अनेकों यादगार मील के पत्थर स्थापित किये हैं ।  आज भारतीय बैंकों में केनरा बैंक का विशिष्ट स्थान है ।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments