asd
Tuesday, July 23, 2024
to day news in chandigarh
Homeचंडीगढ़फिरोजपुरः नहीं थम रहा जाली नोटों का कारोबार, 94 हजार की नकली...

फिरोजपुरः नहीं थम रहा जाली नोटों का कारोबार, 94 हजार की नकली करेंसी के साथ दो गिरफ्तार

आई 1 न्यूज़ चैनल (अभिषेक धीमान) चंडीगढ़,9 जनवरी: नारकोटिक्स सेल ने 94 हजार रुपये की जाली करेंसी समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से कंप्यूटर, स्कैनर व अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं। पकड़ा गया एक आरोपी शिक्षक है और दूसरे आरोपी की पत्नी शिक्षक है। इनके पास से दो हजार, पांच सौ व दो सौ रुपये के लगभग 275 नोट बरामद किए हैं। उधर, थाना कैंट पुलिस ने सोमवार को उक्त दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। नारकोटिक्स सेल के एएसआई दलविंदर सिंह ने थाना कैंट पुलिस को दिए बयान में कहा कि वह पुलिस पार्टी के साथ छावनी स्थित डीएवी कॉलेज के पास गश्त कर रहा था। उन्हें गुप्त सूचना मिली कि सुरजीत सिंह निवासी गली नंबर-छह सुंदर नगर फिरोजपुर रोड, जिला फरीदकोट व शिक्षक देस राज उर्फ देसा निवासी बाबे तारे वाला खूह थाना गुरुहरसहाए जाली भारतीय करेंसी तैयार कर बाजार में चलाते हैं। इस समय छावनी स्थित आर्य अनाथालय स्कूल के पीछे कच्चे रास्ते पर उक्त दोनों आरोपी जाली करेंसी के साथ खड़े किसी का इंतजार कर रहे हैं। पुलिस ने छापेमारी कर उक्त दोनों को गिरफ्तार कर उनकी तलाशी ली। तलाशी के दौरान उनके पास दो हजार, पांच सौ और दो सौ रुपये के लगभग 275 नोट बरामद हुए। कुल रकम 94 हजार बनती है। नारकोटिक्स सेल के अधिकारियों के मुताबिक उक्त दोनों आरोपी दो हजार, पांच सौ व दो सौ रुपये के नोट तैयार करते समय उसमें चमकीली तार भी डालते थे ताकि कोई भी व्यक्ति नोट को लाइट में देखे तो तार चमकने लगे। एसपी (डी) बलजीत सिंह का कहना है कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है कि ये लोग किन-किन लोगों को जाली करेंसी सप्लाई करते थे।

40 हजार के नकली नोटों सहित एक काबू, एक फरार|

नकली नोटों के मामले में रोड़ी पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने एक आरोपी को काबू कर उसके पास से 40 हजार रुपये के नकली नोट बरामद किए हैं। पुलिस आरोपी से गहनता से पूछताछ कर इस गिरोह के अन्य लोगों तक पहुंचने का प्रयास कर रही है। पुलिस को सूचना मिली थी कि रोड़ी में कुछ व्यक्ति नकली नोट चला रहे हैं। जिसके आधार पर पुलिस ने बस स्टैंड के निकट थैला लिए घूम रहे एक व्यक्ति को शक के आधार पर काबू कर उसके थैले की तलाशी ली तो उसमें 500-500 रुपये के 80 नोट बरामद हुए। इस दौरान एक अन्य आरोपी भागने में कामयाब रहा। पुलिस ने जांच पड़ताल के दौरान पाया कि एक ही नंबरों के कई अलग-अलग नोट थे। सामने आया कि ये नोट कंप्यूटर द्वारा स्कैन कर बनाए गए थे। काबू किए गए आरोपी की पहचान पंजाब के संगरूर जिला के गांव काल बंजारा निवासी प्रगट सिंह के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी से जब पूछताछ की तो उसने बताया कि इस कार्य में उसका एक साथी मलकीत सिंह निवासी कोरवाला शामिल है। पुलिस ने आरोपी को साथ लेकर फरार हुए आरोपी मलकीत के गांव व संभावित ठिकानों पर छापेमारी की। लेकिन वह हाथ नहीं लगा। वहीं सूचना के बाद सीआईए सिरसा ने भी मौके पर पहुंचकर आरोपी से पूछताछ की। पुलिस आरोपी से गहनता से पूछताछ कर इस नेटवर्क से जुड़े अन्य लोगों तक पहुंचने की कोशिश में है। आरोपी से 40 हजार रूपये की नकदी बरामद की गई है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। 2 आरोपी थे जिनमें से एक को काबू कर लिया गया। जबकि दूसरा फरार होने में कामयाब रहा। आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। – सत्यवान शर्मा, एसएचओ, रोड़ी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments