Tuesday, August 16, 2022
to day news in chandigarh
Homeचंडीगढ़आतंक के खिलाफ बनेगी एसओजी, नजर रखने को सोशल मीडिया से जुड़ेगी...

आतंक के खिलाफ बनेगी एसओजी, नजर रखने को सोशल मीडिया से जुड़ेगी पुलिस

  • पंजाब पुलिस के डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने कहा, सूबे में आतंकवाद पर लगाम कसने के लिए एक स्पेशल आपरेशन ग्रुप (एसओजी) बनाई जाएगी। इसे विश्व की सबसे बेहतर फोर्स के रूप में ट्रेंड किया जाएगा। साथ ही सोशल मीडिया पर गैंगस्टरों और गर्मख्यालियों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए पंजाब पुलिस इस साल खुद को सोशल मीडिया से जोड़ेगी और अपना फेसबुक पेज, ट्वीटर व यू-ट्यूब खाता इसी महीने खोलेगी। सोशल मीडिया पर जनता की शिकायतों का निवारण भी तुरंत होगा। उन्होंने कहा, पंजाब पुलिस में 4000 सिपाहियों की भर्ती होगी। प्रक्रिया 18 जनवरी से शुरू होगी।

    वीरवार शाम पुलिस मुख्यालय में हुई प्रैस कांफ्रेंस में डीजीपी ने 2017 की पुलिस की उपलब्धियां और 2018 के लक्ष्यों बारे बताया। कहा, सेंट्रल डिजास्टर नंबर 112 की तर्ज पर नेशनल इमरजेंसी रिस्पांस सिस्टम (एनईआरएस) प्रोजेक्ट को पंजाब में लागू किया जा रहा है। इसके तहत फोन काल्स को सेंट्रलाइज करने के उद्देश्य से अप्रैल में मोहाली में एक पब्लिक सेफ्टी आंसरिंग प्वाइंट स्थापित किया जाएगा। इसके अधीन 60 काल वर्क स्टेशन, 12 पुलिस
    कंट्रोल रूम और तुरंत कार्रवाई के लिए 900 इमरजेंसी वाहन होंगे। डीजीपी ने बताया, पंजाब पुलिस सभी थानों का पिछले दस साल का रिकार्ड आनलाइन करेगी। इस दौरान दर्ज एफआईआर और कार्रवाई का ब्यौरा आनलाइन मिलेगा।

    डीजीपी सुरेश अरोड़ा वीरवार को हरपाल टिवाणा कला केंद्र में ‘पुलिस में महिलाओं की भूमिका और व्यवहारिक तबदीली’ विषय पर करवाई पहली जोनल महिला पुलिस कान्फ्रेंस का उद्घाटन करने भी पहुंचे थे। उन्होंने कहा, पुलिस में अभी 7.5 फीसदी महिला मुलाजिम हैं। केंद्रीय महिला आयोग की सिफारिशों के मुताबिक इसे 33 फीसदी करने को भर्ती की जाएगी। उन्होंने कहा, महिला पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को सुप्रीम कोर्ट की विशाखा जजमेंट समेत अन्य अहम केसों के फैसले से रूबरू करवाने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। रेप जैसे केसों की जांच भी महिला अधिकारियों से ही करवाई जाएगी। उन्होंने कहा, वह चाहते हैं कि महिला मुलाजिम बेखौफ होकर काम करें। चलता है… ये रवैया बदलना होगा। इस दौरान डीजीपी अरोड़ा ने महिला पुलिस कर्मियों के लिए एक कमेटी बनाकर आईजी वेलफेयर एंड लिटिगेशन का जिम्मा हरप्रीत कौर को सौंपने का एेलान किया।

    8 मार्च से बदलाव लागू होंगे
    थाने में वर्क कल्चर के सवाल पर डीजीपी ने कहा कि इसे बदलने के लिए समय लगेगा। फोर्स जैसे-जैसे बढ़ेगी इसमें बदलाव आ जाएगा। नीतिगत बदलाव 8 मार्च तक लागू कर दिए जाएंगे। इस महिला पुलिस कान्फ्रेंस में 2 रेंज कवर की गई है और अगली 5 रेंज भी जल्द ही कवर की जाएंग

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments