समाजसेवी संस्थाओं ने मनाया नेशनल डॉक्टर्स डे कोरोना संकटकाल में सराहनीय सेवाएं देने के लिए किया डॉक्टर्स को सम्मानित

0
130

आई 1 न्यूज़ चंडीगढ़ 06 जुलाई 2021 (अमित सेठी) समाजसेवी संस्थाओं द लास्ट बेंचर और ओंकार चैरिटेबल फाउंडेशन के आपसी सहयोग से मंगलवार को नॅशनल डॉक्टर्स डे मनाया गया। कोरोना संकटकाल में अपनी जान की परवाह किये वगैर कोविड पेशेंट्स को सराहनीय सेवाएं देने वाले डॉक्टर्स को सम्मानित किया गया।इस मौके चंडीगढ़ नगर निगम की पूर्व मेयर आशा जसवाल बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थी। सम्मान समारोह में विशेष तौर पर पी जी आई के डायरेक्टर डॉक्टर जगत राम, सेक्टर 16 जी एम एस एच की डायरेक्टर डॉक्टर अमनदीप कौर कंग और जी एम सी एच सेक्टर 32 की डायरेक्टर प्रोफेसर जसविन्दर कौर को उनकी सराहनीय और प्रशंसनीय सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया। इस अवसर पर नेशनल आयुष मिशन के नोडल अफसर डॉक्टर राजीव कपिला को भी कोविड आपदा के दौरान उनकी सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया। वहीं कोविड काल की विकट आपदा में मिनी कोविड केअर सेंटर में स्वास्थ्य लाभ लेने वाले कोविड पेशेंट्स की विशेष तौर पर सेवा करने वाले लगभग 15 डॉक्टर्स को भी सम्मानित किया गया।जिनमे डॉक्टर अभिषेक कपिला, डॉक्टर विकास शर्मा, डॉक्टर बलदेव शर्मा, डॉक्टर ऋचा शर्मा, डॉक्टर डी एस चौहान, डॉक्टर आकांशा शर्मा, डॉक्टर गौरव गैरोला, डॉक्टर राजविंदर कौर, डॉक्टर तमन्ना सिंधु, डॉक्टर अमरोज सिंह, डॉक्टर नवरूप कौर, डॉक्टर तान्या शर्मा, डॉक्टर सुनिन्दर कौर सहित डॉक्टर गौरव शर्मा शामिल थे। वहीं इस अवसर पर सेक्टर 08 मिनी कोविड केअर सेंटर के संचालक रोहिणा खुल्लर, तेजबीर सिंह और सेक्टर 47 मिनी कोविड केअर सेंटर की संचालिका तनु मेहतानी सहित सेक्टर 27 कोविड केअर सेंटर के संचालक अरविंद मेहन को भी समाज के प्रति की गई अतुलनीय सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर दोनों समाजसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी रवनीत कौर,एकम, अस्तिन्दर कौर, शशि बाला, अमिता मित्तल, मधु गौतम, आरती बुद्धिराजा सहित रेना, निशा, अनु और गुरसिमरन सिंह भी उपस्थित थे।

ओंकार चैरिटेबल फाउंडेशन के चेयरमैन रविन्द्र सिंह बिल्ला और द लास्ट बेंचर की प्रेसिडेंट सुमिता कोहली ने कहा कि वर्ष 2020 और अब इस वर्ष 2021 में जिस तरह से कोरोना महामारी ने पहली और दूसरी लहर से देश भर में कहर बरपाना शुरू किया, ऐसे में शहर के डॉक्टर्स ने अपने कर्तव्य का निर्वाह करते हुए दिन रात एक करके जिस प्रकार अपनी जान की परवाह किए बिना ही कोविड पॉजिटिव मरीजों की सेवा की। इसके लिए हम सभी उनके आभारी हैं।उन्होंने आगे कहा कि कोरोना संकटकाल के दौरान सभी डॉक्टरों और स्वास्थय कर्मियों ने दिन रात एक करके इस महामारी से लोगों को बचाने में जी जान से सेवा की, उसकी जितनी प्रशंसा की जाये उतनी कम है।
मुख्य अतिथि आशा जसवाल ने अपने संबोधन में कोविड संकटकाल के दौरान समाज के प्रति डॉक्टर्स द्वारा की गई सेवाओं की भूरि भूरि प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि समाज के प्रति डॉक्टर्स द्वारा दिया गया योगदान अमुल्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here