पंचायत मंत्री द्वारा रुरल हैल्थ फार्मासिस्टों की सेवाएं रेगुलर करने के लिए सीनियर अधिकारियों के नेतृत्व में समिति गठित करने का फैसला

0
436

आई 1 न्यूज़ (अमित सेठी) पंचायत विभाग अधीन काम करते फार्मासिस्टों की सेवाएं रेगुलर करने के लिए ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री स. तृप्त रजिन्दर सिंह बाजवा ने विभाग के सीनियर अधिकारियों के नेतृत्व में समिति गठित करने का फ़ैसला किया है। आज यहाँ पंचायत मंत्री के कार्यालय में रुरल हैल्थ फार्मासिस्ट एसोसिएशन पंजाब के नुमायंदों के साथ मुलाकात की। इस मीटिंग में ग्रामीण विकास विभाग की वित्तीय कमिश्नर सीमा जैन और डायरैक्टर डी.पी.एस खरबन्दा भी उपस्थित थे।

मीटिंग के दौरान पंचायत मंत्री ने यह भी कहा कि समिति द्वारा फार्मासिस्टों को रेगुलर करने के लिए जल्द टाईम बाऊंड पॉलिसी तैयार की जाये। इसके अलावा एसोसिएशन की कुछ अन्य अहम माँगों जिसमें बिजली के खर्चे, स्टेशनरी का खर्च 1000 से बढ़ाकर 2000 करना, ई.पी.एफ.ओ लाभ देने, यात्रा भत्ता, सेवा पुस्तिका लगाने, फार्मासिस्ट कैडर का नाम बदलकर फार्मेसी अफ़सर करना और वेतन सहित 6 महीने की मेटरनिटी लीव तथा अन्य जायज़ माँगों का मौके पर ही हल करते हुए लागू करने के निर्देश दिए।

जि़क्रयोग्य है कि पंजाब भर में ग्रामीण विकास और पंचायत विभाग के अधीन आतीं कुल 1186 ग्रामीण स्वास्थ्य डिस्पैंसरियों में पिछले कई सालों से फार्मासिस्ट ठेके पर काम करते आ रहे हैं।

इस मौके पर रुरल हैल्थ फार्मासिस्ट एसोसिएशन पंजाब के राज्य जनरल सचिव नवदीप कुमार, प्रधान जोत राम, चेयरमैन बलजीत बल, वरिष्ठ उप-प्रधान स्वरत शर्मा और उप-प्रधान प्रिंस भारत ने साझे बयान के द्वारा पंचायत मंत्री की ओर से उनकी कुछ माँगों का मौके पर ही हल करने और रेगुलर करने संबंधी समयबद्ध कार्यवाही मुकम्मल करने के लिए की हिदायतों के लिए धन्यवाद किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here