वायुसेना ने गिराए बालाकोट पर बम, उमर अब्दुल्ला बोले- सही लोकेशन का पता चलने तक इस पर बात करना बेकार

0
493

ऑय 1 न्यूज़ 26 फरवरी 2019.. वायुसेना ने एलओसी को पार कर जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया है. भारतीय वायुसेना के 12 मिराज विमानों ने इस आतंकी ठिकानों पर 1000 किलो बम गिराए. ऐसा कहा जा रहा है कि ये कार्रवाई पाकिस्तान के बालाकोट में हुई.

भारत ने पुलवामा आतंकी हमले का बदला ले लिया है. बीती रात भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान पर बड़ी कार्रवाई की है. वायुसेना ने एलओसी को पार कर जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया है. भारतीय वायुसेना के 12 मिराज विमानों ने POK के आतंकी ठिकानों पर 1000 किलो बम गिराए. ऐसा कहा जा रहा है कि यह कार्रवाई पाकिस्तान के बालाकोट में हुई. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने तारफी करते हुए इस पर सवाल उठाए हैं.

सबसे पहले उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया, ”Wow, अगर ये सच है तो ये छोटा स्ट्राइक नहीं है लेकिन हमें आधारिकारिक बयान का इंतजार करना चाहिए.” आगे उन्होंने लिखा, ”अब समस्या प्रधानमंत्री इमरान खान की अपने वतन के प्रति प्रतिबद्धता की है. उन्होंने कहा था, ”पाकिस्तान जवाब देने के बारे में सोचेगा नहीं, बल्कि जवाब देगा.” ये प्रतिक्रिया क्या आकार लेगी? कहां होगी ? क्या भारत को पाकिस्तान की प्रतिक्रिया का जवाब देना होगा?”

साथ ही आगे उन्होंने सवाल उठाते हुए लिखा, ”अगर ये स्ट्राइक खैबर पख्तूनख्वा (KPK) के बालाकोट में हुई है तो IAF का ये आकस्मिक हमला बहुत बड़ा है. हालांकि अगर ये पूंछ सेक्टर के बालाकोट में किया गया है तो ये प्रतीकात्मक स्ट्राइक है क्योंकि इस समय इस एरिए में लॉन्च पैड्स, मिलिटेंट कैंप्स खाली हैं और नॉन-फंक्शनल हैं.”

आगे उन्होंने कहा, ”जब तक कि हमें ये पता नहीं चल जाता कि पाकिस्तानी जनरल किस बालाकोट की बात कर रहे हैं, एयरफोर्स ने कहां हमला किया और क्या गिराया इस बारे में बात करना व्यर्थ है.”

पाकिस्तान ने आज खुद ही इस हमले की पुष्टि की. पाकिस्तान का दावा है कि ये हमला पूंछ सेक्टर के बालाकोट हुआ है. पाकिस्तान ने कहा कि भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन किया और पाकिस्तानी सीमा में घुसपैठ की. पाकिस्तानी वायु सेना (पीएएफ) की जवाबी कार्रवाई के बाद विमान वापस लौट गए. इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के महानिदेशक आसिफ गफूर ने सुबह ट्वीट किया और रेडियो पाकिस्तान ने दावा किया कि वायुसेना के विमानों ने लौटने से पहले जल्दबाजी में विमान में रखे बम गिरा दिए जो खैबर पख्तूनख्वा में बालाकोट के पास गिरे हैं. रेडियो पाकिस्तान ने दावा किया कि यह कथित घटना मुजफ्फराबाद सेक्टर में हुई.

पुलवामा का बदला: पूर्व वायुसेना प्रमुख एवाई टिपनिस बोले- इंडियन एयरफोर्स का शानदार काम लेकिन सावधान

बता दें कि बालाकोट पाकिस्तान के एबटाबाद के पास स्थिति है. एलओसी से बालाकोट की दूरी 88 किलोमीटर है. एबटाबाद वही इलाका है जहां ओसामा बिन लादेन छिपा था. भारतीय वायुसेना का इतना अंदर जाकर कार्रवाई करना बेहद सफल ऑपरेशन माना जा रहा है.

बालाकोट में किया गया यह हमला इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह स्थान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से पार है जो दर्शाता है कि यह महज नियंत्रण रेखा का उल्लंघन नहीं हैं, बल्कि पाकिस्तानी क्षेत्र के भीतर की गई दंडात्मक कार्रवाई है.

वायु सेना ने मिराज 2000 लड़ाकू विमानों के जरिए तड़के 3.30 बजे यह हमला किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here