हिमाचल कांग्रेस विधायक दल दो फाड़! वीरभद्र के समर्थन में 11 विधायकों ने सुक्खू पर बोला हमला

0
282

आई 1 न्यूज़ चेंनल (अभिषेक धीमान) चंडीगढ़ 15 जनवरी – हिमाचल कांग्रेस विधायक दल दो फाड़ हो गया है. दिग्गज नेता वीरभद्र सिंह और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुक्खूविंद्र सिंह सुक्खू के बीच फिर से जुबानी जंग तेज हो गई. पूर्व मंत्री आशा कुमारी, धनीराम शांडिल सहित कांग्रेस के 11 विधायक पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के साथ खड़े हो गए गए हैं. बता दें कि कांग्रेस के पास विधानसभा में 21 विधायक हैं. इन विधायकों ने पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुक्खू पर जुबानी हमला बोला है. सभी ने संयुक्त बयान में कहा कि है कि सुक्खू ने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बारे में जो टिप्पणियां की हैं, वह न केवल निंदनीय ही हैं, बल्कि, ये कांग्रेस अध्यक्ष के पद को गंवाने पर बौखलाहट है. यह बीमार मानसिकता को दर्शाने वाला कदम है. अच्छा होता यदि सुक्खू इस तरह की बयानबाजी न करके भाजपा के शीर्ष नेताओं और केंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियों का विरोध करते. सुक्खू से निवेदन है कि कांग्रेस को आगामी लोकसभा चुनाव में विजयी बनाने के लिए आपसी गुटबाजी को नजरअंदाज कर एकजुट हो जाएं. कांग्रेस के 11 विधायकों में आशा कुमारी, धनीराम शांडिल, आईडी लखनपाल, नंद लाल, जगत सिंह नेगी, राजेंद्र राणा, मोहन लाल ब्राक्टा, विक्रमादित्य सिंह, विनय कुमार, आशीष बुटेल और पवन काजल के नाम से सोमवार को जारी बयान जारी कर यह बात कही. इन विधायकों ने कहा कि वीरभद्र सिंह न केवल हिमाचल कांग्रेस, बल्कि पूरे भारत में वरिष्ठतम नेताओं में से एक हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here