1984 में मारे गए लोगों की याद में निकला गया नगर कीर्तन

0
356

आई 1 न्यूज़ 4 जून 2018 (अमित सेठी )  जून 1984 में मारे गए लोगों को समर्पित नगर कीर्तन सजाया घल्लूघारा सप्ताह को लेकर हाई अलर्ट जारी, सिक्योरिटी बढ़ाई गई जून 1984 में श्री अकाल तख्त साहिब पर की गई कार्रवाई (साका नीला तारा) के दौरान मारे गए लोगों को समर्पित शंभु बैरियर से चले नगर कीर्तन का गुरुद्वारा नाभा साहिब में भव्य स्वागत किया गया। शंभु बैरियर से शुरू हुआ यह नगर कीर्तन बनूड़, कनोड, कराला होता हुआ अजीजपुर, रामपुर आदि के बाद नाभा साहिब, ज़िरकपुर, डेराबसी दप्पर होता हुआ लालड़ू में जाकर समाप्त हुआ। इस नगर कीर्तन का जहां गांवों की संगतों ने स्वागत किया, वहीं नगर कीर्तन के साथ चल रही संगतों के लिए ठंडे मीठे जल की छबीलें, चाय, प्रसाद आदि के लंगर भी लगाए गए। नगर कीर्तन को लेकर ज़िरकपुर पुलिस द्वारा बड़े स्तर पर प्रबंध किए गए थे। पुलिस अधिकारियों के साथ करीब 10पुलिस मुलाजिम हाजिर थे। जिक्रयोग है कि अमृतसर में 6 जून तक मनाए जा रहे घल्लूघारा सप्ताह को लेकर पंजाब पुलिस ने राज्य में हाई अलर्ट जारी करते हुए सिक्योरिटी बढ़ा दी है। इसके लिए विशेष तौर पर शहरों में आर्म्स बटालियन तैनात की गई है और पुलिस कर्मचारियों की छुट्टियां कैंसिल कर दी गई हैं। इसी दौरान घल्लूघारा सप्ताह के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की आड़ में माहौल खराब करने का प्रयास करने वाले कुछ संगठनों को लेकर इंटेलिजेंस और ख़ुफ़िया तंत्र भी सतर्क हो गया है।

बाईट – भाग सिंह, मैनेजर गुरुद्वारा नाभा साहिब जीरकपुर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here