शाहकोट जिमनी चुनाव के लिए वोटिंग का काम 28 मई को होना है |

0
464

आई 1 न्यूज़ 24 मई 2018 ( सुनील कुमार )  शाहकोट जिमनी चुनाव के लिए वोटिंग का काम 28 मई को होना है पर युद्ध के लिए अखाड़ा पूरी तरह तैयार हो चुका है। विरोधी पार्टियां सत्ताधारी पार्टी पर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने तथा धमकाने के आरोप लगा रही है ।इसी सिलसिले में आज शिरोमणि अकाली दल का एक वफद नेता दलजीत सिंह चीमा के नेतृत्व में चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर को ज्ञापन सौंपने के लिए उनके कार्यालय गया और उन्हें ज्ञापन सौंपा। इस ज्ञापन में निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए अपील की गई और साथ ही पैरामिलिट्री फोर्स तथा कैमरा के अंदर वोटिंग कराने को लिखा गया।

ज्ञापन देने के बाद दलजीत सिंह चीमा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा सताधार अकाली दल ने पहले भी नगर निगम और नगर पालिका चुनाव में बड़े स्तर पर धांधलियां करके चुनाव जीते हैं और इस बार भी वह इसी कोशिश में है कि किसी भी ढंग से चुनाव में जीत प्राप्त की जाए। वह पुलिस का दुरुपयोग करके इलाके के लोगों को डरा रहे हैं और बिजली महकमे तथा दूसरे सरकारी महकमों द्वारा धमकियां दी जा रही है और लोगों के बिजली के मीटर काटे जा रहे हैं और उन्हें मजबूर किया जा रहा है कि वह कांग्रेस के उम्मीदवार को वोट दें अन्यथा नतीजे भुगतने को तैयार रहें। दलजीत चीमा ने कहा कि मुख्य चुनाव आयुक्त ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि 55 स्थानों पर पैरामिलिट्री फोर्स को लगाया जाएगा और 44 स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों के अंतर्गत वोटिंग कराई जाएगी क्योंकि सभी स्थानों पर पैरामिलिट्री फोर्स लगाना संभव नहीं है फिर भी केंद्र से इस बारे में बातचीत की जाएगी।
दूषित पानी के मुद्दे पर बोलते हुए दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि जानबूझकर दोषियों को बचाया जा रहा है। पंजाब सरकार कैसे यह दावा कर सकती है कि जिस पानी में लाखों मछलियों की लाशें गल रही है वह पानी पीने के लिए उपयुक्त है।
आम आदमी पार्टी का गठबंधन कांग्रेस के साथ होने पर फुलका द्वारा पार्टी छोड़ने की बात पर टिप्पणी करते हुए दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि फुल्का शायद भूल रहे हैं कि दिल्ली में भी कांग्रेस का समर्थन लेकर आम आदमी पार्टी ने सरकार बनाई थी इसलिए उन्हें पिछली तारीख से ही आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे देना चाहिए।
वाइट दलजीत सिंह चीमा सीनियर नेता शिरोमणि अकाली दल व पूर्व शिक्षा मंत्री पंजाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here