अधिकारियों के साथ की अनौपचारिक मुलाकात  कपास क्षेेत्र में 25 अप्रैल से पानी छोडऩे के निर्देश

0
470

चंडीगढ़, 23 अप्रैल 2018 ( अमित सेठी ) पंजाब के राजस्व, पुर्नवास, आपदा प्रबंधन एवं जल संसाधन मंत्री स. सुखबिन्दर सिंह सुख सरकारिया ने आज यहाँ नहरी प्रबंधों सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों के साथ अनौपचारिक बैठक करके चल रहे प्रोजेक्टों की स्थिति संबंधी जानकारी प्राप्त की।

इससे पहले विभागीय अधिकारियों ने उनका स्नेहपूर्ण स्वागत किया। मीटिंग के दौरान अधिकारियों ने उनके सामने विभन्न प्रोजेक्टों की कारगुज़ारी संबंधी प्रस्तुति दी। उन्होंने नहरों को मज़बूत करने और सफ़ाई प्रोजेक्टों के अलावा पानी छोडऩे के प्रोग्राम संबंधी भी जानकारी हासिल की। उन्होंने निर्देश दिए कि कपास क्षेत्र में 25 अप्रैल से नहरी बंदी खोल दी जाये जिससे नरमे और कपास की बिजवाई के लिए पानी मुहैया हो सके। उन्होंने दूर-दराज तक (टेलों तक) पानी पहुँचाने के लिए भी उचित प्रबंध करने की हिदायत की।

इस दौरान मलूकपुर माईनर की सफ़ाई न होने का मुद्दा भी उठा, जिस पर अधिकारियों ने कहा कि लेबर की दिक्कत के कारण नहरों की सफ़ाई में दिक्कत आई है क्योंकि कटाई का सीजन होने के कारण नरेगा के अंतर्गत लेबर नहीं मिल रही। स. सुख सरकारिया ने हिदायत की कि मलूकपुर माईनर की तुरंत सफ़ाई करवाई जाये जिससे कपास और नरमे की बिजवाई के लिए पानी की कोई कमी न आए। इस दौरान उन्होंने बूंद सिंचाई और फुहारा प्रणाली के द्वारा सिंचाई के प्राजैक्ट को भी आगे बढ़ाने के लिए कहा।

कैबिनेट मंत्री ने फ़सलीय विविधता अपनाने का न्योता देते हुए गेहूँ और धान के फ़सलीय चक्कर को तोडऩे पर ज़ोर देते हुए अधिकारियों को इस संबंधी किसानों को जागरूक करने के लिए अभियान चलाने के लिए कहा। इस मीटिंग में प्रमुख सचिव जसपाल सिंह, सचिव ए.एस. मिगलानी, अतिरिक्त सचिव श्रीमती परमपाल कौर सिद्धू, संयुक्त सचिव सुखजीत सिंह के अलावा विभाग के समस्त चीफ़ इंजनियर भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here