मंगलवार को शिरोमणि अकाली दल और भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा का घेराव किया ।

0
527

चंडीगढ़ आई 1 न्यूज़ 20 मार्च 2018 ब्यूरो रिपोर्ट पंजाब विधानसभा सत्र के शुरू होते ही सैक्टर-25 के रैली ग्राऊंड में अकाली दल की तरफ से विशाल रैली की गई। इस रैली दौरान बड़ी संख्या में अकाली पहुंचे। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, पूर्व उप मुख्य मंत्री सुखबीर सिंह बादल, भाजपा पंजाब प्रधान विजय सांपला सहित कई दिग्गज वहां कांग्रेस सरकार का विरोध करने के लिए जुटे। इस दौरान अकाली नेताओं ने कांग्रेस के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। इसके बाद अकाली लीडरशिप के नेतृत्व में बड़ी संख्या में पहुंचे लोगों ने विधानसभा की तरफ कूच करने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने उग्र हुए लोगों को काबू करने के लिए लाठीचार्ज के साथ-सात पानी की बौछारें की। अकालियों को विधानसभा जानें से रोकने के लिए 2000 के करीब पुलिस के जवानों को तैनात किया गया। इस के इलावा पैरा मिलटरी फोर्स, रैपिड एक्शन फोर्स और महिला पुलिस भी तैनात की गई। इस दौरान एस.एस. पी. जगदरे नीलांबरी ने कहा कि पहले अकालियों को आगे न बढ़ने की अपील की गई परन्तु वह नहीं मानें तो फिर उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया गया।

रैली में आए लोग जमकर पी शराब, एक इंस्पेक्टर सस्पेंड

चंडीगढ़। मंगलवार एक तरफ जहां अकालियों की रैली चल रही थी वहीं दूसरी तरफ पंजाब से आए लोग शराब पीने में मस्त थे, कोई पी रहा है तो कोई बैग में स्टाक रखता दिख रहा है। लोग सरेआम ठेकों से शराब लेते दिख रहे थे। फोटो में साफ-साफ दिख रहा है किस तरह लोग शराब के लिए ठेके के बाहर भीड़ लगाए हुए हैं और शराब की दो-दो बोतलें उठाकर सड़कों पर ही बैठ रहें हैं।धड़ले से शराब को बिकता देख ठेकेदारों ने भी इसका खूब फायदा उठाया और आधे दामों में शराब बेचना शुरू कर दी। बस फिर क्या था चंडीगढ़ के ठेकों के बाहर जमावड़ा लग गया, और लोग शराब पीने में मस्त हो गए। सरेआम सड़को के बीचो बीच लागों ने शराब पीना शुरू कर दिया। वहीं पुलिस रैली को कंट्रोल करने में लगा था वही रैली में आए लोग जमकर शराब का आनंद लेते दिख रहे थे। जिसे रोकने में पुलिस नाकाम रही तो वहीं उपर बैठे अधिकारी तत्काल प्रभावशील कार्रवाई करते हुए इंस्पेक्टर आरती गोयल को सस्पेंड कर दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here