हिमाचल विधानसभा सत्रः पानी की किल्लत को लेकर पेयजल योजनाओं का मामला

0
467
ब्यूरो रिपोर्ट :13 मार्च 2018
उठाऊ पेयजल योजनाओं की सही जानकारी न मिलने पर कांग्रेस विधायक और आईपीएच मंत्री में ठन गई। बिलासपुर जिले में उठाऊ पेयजल योजनाओं की सही जानकारी न मिलने पर कांग्रेस विधायक और आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह आमने सामने हो गए।

नयनादेवी के विधायक रामलाल ठाकुर ने जिले में पानी की किल्लत को लेकर पेयजल योजनाओं का मामला उठाया। उनके विस क्षेत्र में पांच टैंक बनाए गए हैं, लेकिन स्कीमों से इनमें पानी नहीं डाला गया। जिस एक टैंक में पानी डाला गया है, उसमें नयनादेवी से पौने इंच का पाइप लगाया है।

प्रश्न के उत्तर में मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर बोले

प्रश्न के उत्तर में मंत्री बोले – उठाऊ पेयजल योजना के बैहल, स्वाहण और री स्रोत में पानी कम होने से पहले ही इन्हें अपग्रेड किया गया। इस पर विधायक रामलाल ठाकुर ने आरोप लगाया कि मंत्री जो जवाब दे रहे हैं, वह प्र्रश्न का सही उत्तर नहीं है।

विभाग के अधिकारी गलत सूचना देकर मंत्री को गुमराह कर रहे हैं। इस पर मंत्री बोले – अभी मेरे पास यही सूचना है, जो सूचना मुझे दी गई है मैं वही बता रहा हूं। अगर यह सूचना गलत है तो संबंधित अधिकारी पर कार्रवाई होगी। उन्होंने सदन में ही इस मामले की जांच के आदेश दे दिए।

सूखने लगे पेयजल स्रोत
आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि हिमाचल में पेयजल स्रोत सूखने लगे हैं। बारिश कम होने से स्रोतों में पानी कम हो गया है। आने वाले समय में स्थिति और भी गंभीर होने वाली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here