विकास को अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए महिलाओं को अधिक अधिकार देने की ज़रूरत-परनीत कौर

0
756
आई 1 न्यूज़ 8 मार्च 2018 विकास को अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए महिलाओं को अधिक अधिकार देने की ज़रूरत-परनीत कौर महिलाओं के सशक्तिकरण से ही आदर्श समाज सृजित किया जा सकता है: अरुना चौधरी
‘विमैनज़ प्राइड कन्कलेव’ के दौरान अरुना चौधरी और रजिया सुल्ताना सहित विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धियां प्राप्त करने वाली महिलाओं का किया सम्मान  संसार में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को गौरवमयी ढंग से जीवन जीने, कोई भी उपलब्धि प्राप्त करने का अधिकार है और उसे समान अवसर मिलने चाहिएं। यह बात पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती परनीत कौर ने आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर ‘जी पंजाब, हरियाणा, हिमाचल’ (ज़ैडपीएचएच) द्वारा करवाऐ ‘विमैनज़ प्राइड कन्कलेव’ को संबोधित करते हुये कही। समारोह के मुख्य अतिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती परनीत कौर ने कहा कि यह गौरव वाली बात है कि आज के युग में महिलाएं घर की चारदीवारी में कैद नहीं हैं और उन्होंने हरेक क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाई है। महिलाओं को शक्ति क ा स्त्रोत बताते उन्होंने कहा कि महिलाओं ने प्रत्येक क्षेत्र में सफलता प्राप्त की है।  केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल को याद करते हुये उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र्र में महिला विंग के गठन का गवाह बनने का अवसर मिलना उनके लिए बेहद गौरव वाली बात है। यह विंग कायम होने से यह सुनिश्चित हुआ है कि महिलाएं किसी से पीछे नहीं हैं। संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान का हवाला देते हुये श्रीमती परनीत कौर ने कहा कि महिलाओं के सशक्तिकरण से ही  विकास को प्रभावशाली बनाया जा सकता है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने पंजाब की शिक्षा मंत्री श्रीमती अरुना चौधरी की मिसाल देते हुये कहा कि अब कोई ऐसा क्षेत्र नहीं है, जिस में महिलाओंं ने अपनी पहचान न बनाई हो।
इस अवसर पर बोलते हुये शिक्षा मंत्री श्रीमती अरुना चौधरी ने ज़ी चैनल द्वारा करवाये कन्कलेव की सराहना करते कहा कि आदर्श समाज की सृजना तभी ही हो सकती है अगर महिलाओंं को मान-सम्मान दिया जाये और उनको आगे बढऩे का मौका दिया जाये। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का नेतृत्व अधीन पंजाब सरकार द्वारा महिलाओं के सशक्तिकरण को दी जाती पहल का जि़क्र करते हुये उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने ऐतिहासिक फ़ैसला लेते हुये महिलाओं को पंचायतों और निगमों में 50 प्रतिशत आरक्षण दिया। उन्होंने यह भी कहा कि पंजाब कैबिनेट द्वारा बीते दिनों एशियन कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली नवजोत कौर को पाँच लाख रुपए का नकद इनाम और सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया गया। इससे पहले क्रिकटर हरमनप्रीत कौर को डी.एस.पी. बनाया गया। उन्होंने कहा कि यह दोनों खिलाड़ी पंजाब की समूचे लड़कियों के लिए प्रेरणा का स्रोत है।
इस अवसर पर शिक्षा मंत्री श्रीमती अरुना चौधरी को राजनीतिक क्षेत्र और शिक्षा विभाग में दिये बहुमूल्य योगदान के कारण सम्मानित किया गया। सामाजिक सुरक्षा और महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रजिया सुल्ताना को भी महिलाओं के कल्याण के लिए किये गए कार्यो के एवज़ में सम्मानित किया गया। श्रीमती रजिया सुल्ताना जो ‘नारी शक्ति अवार्ड’ हासिल करने नई दिल्ली गए हुए थे, की तरफ़ से यह अवार्ड उनकी बहु जैनब को अवार्ड  देकर सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में प्राप्तियां करने वाली महिलाओं को पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती परनीत कौर और ज़ी पंजाब हरियाणा हिमाचल के संपादक श्री दिनेश शर्मा ने सम्मानित किया। सम्मान हासिल करने वाली महिलाओं में विधायिका प्रो. बलजिन्दर कौर और श्रीमती सरबजीत कौर माणूंके, ओलंपियन हरवंत कौर, डी.एस.पी सकींग आँचल ठाकुर, मनिंदरजीत कौर, करिश्मा अग्रवाल, सुरिंदर कौर, सुखपाल कौर, राजवंत कौर, परमजीत कौर, सुनदा शर्मा, ऋचा अग्रवाल, सुनीता रौंगता, भावना ग्रोवर और डा.प्रभजोत कौर शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here