जीवन रक्षक दवा बनी युवती के लिए मौत का कारण

0
998
जिस दवा को हम जीवन रक्षक मानकर सेवन करते हैं, वही दवा एक युवती के लिए मौत का कारण बन गई। जी हां, सुनने में ये तोड़ा अजीब जरूर लगेगा, लेकिन यही सच्चाई है। जिस दवाई को युवती ने बीमारी से राहत मिलने की उम्मीद के साथ सेवन किया, उसी दवा ने उसकी जान ले ली।

थाना क्षेत्र सुजानपुर की पटलांदर पंचायत के गांव थड़ा की 23 वर्षीय युवती की एक्सपायरी डेट की दवाई खाने से मौत हो गई। मृतक की पहचान रीना कुमारी (23) पुत्री सुरेश कुमार गांव थड़ा डाकघर पटलांदर तहसील सुजानपुर जिला हमीरपुर के रूप में हुई है।

यहां जानिए क्या है पूरा मामला

बताया जा रहा है कि युवती के पिता की कुछ वर्ष पहले मौत हो चुकी है। अब घर में भाई और मां ही रह गईं हैं। रीना ने हमीरपुर महाविद्यालय से स्नातकोत्तर की पढ़ाई की। इसके साथ ही कंप्यूटर का डिप्लोमा भी किया था।

इस समय वह घर पर मां के साथ रोजमर्रा के काम में हाथ बंटाती थी।रीना कुमारी ने मंगलवार शाम को एक्सपाइरी डेट की दवाई गलती से खा ली। इस कारण उसकी तबीयत बिगड़ गई।

मामले पर क्या कहती है पुलिस

तबीयत बिगड़ने पर परिजनों ने उसे सुजानपुर अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसकी बिगड़ती हालत को देखते हुए उसे प्राथमिक उपचार देकर टांडा मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया।

पुलिस को भी इस बारे में सुजानपुर अस्पताल से ही जानकारी मिली। टांडा मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान बुधवार सुबह युवती ने दम तोड़ दिया। थाना प्रभारी सुजानुपर श्यामलाल का कहना है कि पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है। मामले की छानबीन जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here