पांवटा साहिब में ऐतिहासिक होला मोहल्ला मेले के उपलक्ष में अंतिम सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया

0
488

ब्यूरो रिपोर्ट :6 march2018

पांवटा साहिब में ऐतिहासिक होला मोहल्ला मेले के उपलक्ष में बीती रात द्वितीय एवं अंतिम सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य तौर पर स्थानीय व हिमाचली कलाकारों ने अपनी मनमोहक प्रस्तुतियां दी। हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के पांवटा में एकमात्र मनाए जाने वाले इस होला मोहल्ला मेले में जहां एक और पूरे शहर में रौनक लगी हुई है, तो वही नगर परिषद द्वारा आयोजित सांस्कृतिक संध्याओं द्वारा शहर में जश्न का माहौल हो गया है। बीते सोमवार की रात स्थानीय कलाकारों व उन हिमाचली कलाकारों के नाम रही, जिन्होंने बॉलीवुड से लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी अच्छी पहचान बनाई है।

इस उपलक्ष पर डीसी सिरमौर ललित जैन बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे थे होला मोहल्ला मेले के अवसर पर आयोजित हुई इस द्वितीय एवं अंतिम सांस्कृतिक संध्या में मुख्य कलाकार के तौर पर यहां पहुंचे किशन वर्मा व मिनी मीका ने अपने सुरों से जनता का खूब मनोरंजन किया।

वही प्रमुख हिमाचली कलाकारों कृतिका तंवर और विनोद रांटा अपने तराना से समूची जनता को थिरकने पर मजबूर कर दिया। जहां एक ओर बॉलीवुड तक अपनी धाक जमा चुकी सोलन से आईं कृतिका तंवर ने “पत्ता-पत्ता, बूटा-बूटा”, “कबीरा मान जा” व “मेरा पिया घर आया” आदि गाने गाकर सबका दिल मोह लिया। वही अंत में शिमला से आये प्रमुख कलाकार विनोद रांटा ने “रूपमती” आदि प्रसिद्ध गाने गाकर दर्शकों का खूब मनोरंजन किया।

जिनकी धुनों पर पण्डाल में बैठे दर्शक झूम उठे तो वहीं नगर परिषद उपाध्यक्ष नवीन शर्मा, पार्षद धनबीर कपूर व तहसीलदार पांवटा ने भी मंच पर सुंदर नाटी लगाई। इसी कार्यक्रम के साथ ही होली के अवसर पर आयोजित होने वाली सांस्कृतिक संध्या का समापन हुआ। पांवटा साहिब में होली के अवसर पर चल रहे ऐतिहासिक मेले का समापन 8 मार्च को नगर परिषद द्वारा आयोजित होने वाली कुश्तियों के साथ होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here