प्रार्थना बेहद निर्मल मन से करनी चाहिए  स्वामी गिरिधर गिरी जी महाराज

0
700

आई 1 न्यूज़ 16 फरवरी 2018 प्रार्थना बेहद निर्मल मन से करनी चाहिए  स्वामी गिरिधर गिरी जी महाराज  जैसे माता शबरी ने प्रभु राम से प्रेम किया और उन्हें पाया, हमें भी भगवान को पाने के लिए वैसे ही उसी भावना से प्रभु से प्यार करना चाहिए। ये वचन आज यहां सेक्टर 27 स्थित श्री सनातन धर्म मंदिर सभा द्वारा करवाए जा रहे मंदिर के 38वां वार्षिक महोत्सव में कनखल, हरिद्वार से आये हुए श्री 1008 महामंडलेश्वर स्वामी श्री गिरिधर गिरी जी महाराज ने कहे। उन्होंने उपस्थित श्रद्धालुओं से आगे कहा कि हमें भगवान का भजन संसार की काल्पनिक ख़ुशी के लिए नहीं बल्कि भक्तिरस में लीन हो कर करना चाहिए। जिस प्रकार हम अपने परिवार के बारे में सब कुछ जानतें हैं उसी प्रकार भगवान से भी हमारे प्रत्येक अच्छे-बुरे कर्म का लेखा-जोखा है, इसलिए हमें बेहद निर्मल मन से प्रार्थना करनी चाहिए।   1008 महामंडलेश्वर स्वामी  गिरिधर गिरी जी महाराज कनखल, हरिद्वार की अध्यक्षता में आयोजित किये गए इस महोत्सव में  108 स्वामी अशोक पुरी जी महाराज कनखल, हरिद्वार से, कमलेश गिरि जी महाराज वृंदावन से, श्री तिलकराज जी तबलावादक बटाला से व श्री महिला संकीर्तन मंडल सेक्टर 27 ने 14 फरवरी से आरम्भ हुए इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में भजन कीर्तन करके श्रद्धालुओं को निहाल किया।  आज अंतिम दिन संगीतमय प्रवचन हुआ। बाद में अटूट भंडारा भी बरताया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here