जल्द शुरू होगा ये वुमन इमरजेंसी नंबर

0
511
ब्यूरो रिपोर्ट :6 फ़रवरी 2018
प्रदेश में गुड़िया हेल्पलाइन के बाद अब वुमन इमरजेंसी नंबर शुरू होगा। प्रदेश सरकार गुड़िया हेल्पलाइन 1515 के बाद अब जल्द ही 181 वुमन इमरजेंसी नंबर शुरू करने की तैयारी कर रही है।

इस नंबर के शुरू होने पर महिला हेल्पलाइन के अन्य नंबरों की कॉल भी इसी नंबर पर डायवर्ट हो जाएंगी। केंद्र सरकार की ओर से 2013 में पूरे देश में महिला सुरक्षा के लिए 181 हेल्पलाइन नंबर शुरू किया गया था।

लेकिन पांच साल तक प्रदेश की सरकार इस योजना को लागू नहीं कर सकी। अब नई जयराम सरकार इस योजना के जरिये महिलाओं को सुरक्षित महसूस कराने की कवायद में जुट गई है।

विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने घोषणा की थी कि उनकी सरकार बनने के एक महीने के भीतर महिलाओं की सुरक्षा के लिए गुड़िया हेल्पलाइन शुरू करेगी।

कंट्रोल रूम बनाने पर भी विचार

जयराम ठाकुर के नेतृत्व में सत्ता पर काबिज होने के बाद सरकार ने 26 जनवरी को एक महीने पूरे होने पर गुड़िया हेल्पलाइन 1515 शुरू कर दी। इससे पहले 1091 नंबर पहले ही महिला हेल्पलाइन के तौर पर चल रहा था।

अब सरकार इन कई नंबरों को खत्म कर 181 वुमन इमरजेंसी  हेल्पलाइन शुरू करने की तैयारी कर रही है। पुलिस मुख्यालय के पीआरओ व एसपी कानून व्यवस्था डॉ. खुशाल शर्मा ने बताया कि इस नंबर को केंद्र सरकार ने लांच किया था।

अब प्रदेश में इसे लागू करने के लिए प्रक्रिया जारी है। सोलन में इसके लिए कंट्रोल रूम बनाने पर भी विचार किया जा रहा है। आने वाले दिनों में अन्य नंबरों को इसी नंबर में मर्ज कर दिया जाएगा और महिला संबंधी किसी भी शिकायत के लिए 181 इमरजेंसी नंबर ही काम करेगा।

अभी कई नंबरों पर दर्ज हो रही शिकायत

वर्तमान में कई इमरजेंसी नंबर है जिनपर महिलाओं की शिकायतों को दर्ज किया जा रहा है। इनमें 100 नंबर के अलावा 1091 महिला हेल्पलाइन, 1515 गुड़िया हेल्पलाइन, एसएमएस व वाट्सएप नंबर 9459100100 शामिल हैं।

इसके अलावा हाल में जयराम सरकार ने महिला सुरक्षा के लिए शक्ति बटन एप शुरू किया है। आने वाले समय में इन सभी नंबरोें को 181 में मर्ज कर महिलाओं को एक ही नंबर पर सुविधा उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here