कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य को खुले में शौच मुक्त कराने के 31 मार्च 2018 तक निर्धारित किये लक्ष्य को पूर्ण करने को यकीनी बनाने के लिए जलापूर्ति व स्वच्छता विभाग को निर्देश दिए हैं।

0
526

आई 1 न्यूज़ 19जनवरी 2018  मुख्यमंत्री द्वारा 31 मार्च तक राज्य को खुले में शौच मुक्त बनाने संबंधी प्रयासों को यकीनी बनाने के निर्देश प्रति वर्ष 100 अन्य गांवों को 24 घंटे स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के भी आदेश, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य को खुले में शौच मुक्त कराने के 31 मार्च 2018 तक निर्धारित किये लक्ष्य को पूर्ण करने को यकीनी बनाने के लिए जलापूर्ति व स्वच्छता विभाग को निर्देश दिए हैं। इसी दौरान उन्होंने सालाना 100 अन्य गांवों को 24 घंटे जलापूर्ति उपलब्ध करवाने के अलावा प्रत्येक के लिए स्वच्छ पेयजल यकीनी बनाने के लिए भी विभाग को कदम उठाने के आदेश दिए हैं। आज यहां जलापूर्ति व स्वच्छता विभाग की चल रही स्कीमों और प्रोजेक्टों का जायज़ा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि 31 मार्च 2018 तक ग्रामीण पंजाब को खुले में शौच मुक्त कराने के लिए निर्धारित किये लक्ष्य को मुकम्मल करने के लिए सरकार आगे बढ़ रही है और इसने 13 जिलों में पहले ही यह लक्ष्य प्राप्त कर लिया है।
स्वच्छ भारत मिशन स्कीम के अंतर्गत 85 प्रतिशत से अधिक लाभार्थीयों द्वारा स्नानघर व शौचालय अपनाने के संबंध में सूबा सरकार द्वारा सुविधा मुहैया कराने के लिए भी मुख्यमंत्री ने संतोष प्रकट किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here