सभी सैक्टर में संबंधित विभागों के अधिकारियों की तैनाती ,दूरभाष संख्या 1077 के माध्यम से संपर्क

0
501

आई 1 न्यूज़ : संदीप कश्यप

शिमला,
शिमला में बर्फबारी के दौरान स्नो मैनुअल के प्रावधानों को दक्षतापूर्वक लागू करने के लिए आज यहां समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसकी अध्यक्षता उपायुक्त शिमला श्री अमित कश्यप ने की।
उपायुक्त ने कहा कि बर्फबारी के दृष्टिगत शिमला नगर को पांच सैक्टर में बांटा गया है, ताकि सभी राहत व अन्य कार्य समयबद्ध पूर्ण किए जा सकें।

सैक्टर-1 में संजौली, ढली, नालदेहरा, कुफरी, मशोबरा, बल्देहां, छोटा शिमला और संजौली क्षेत्र को सम्मिलित किया गया है।
सैक्टर-2 में ढली-संजौली, आईजीएमसी, लक्कड़-बाजार विक्ट्री टनल तक, कैथू, ढली बाईपास, भराड़ी, चैड़ा मैदान, एजी आॅफिस-अन्नाडेल क्षेत्र शामिल किए गए हैं।
सैक्टर-3 में बाईपास एनएच रोड़ बाया आईएसबीटी शोघी तक, बीसीएस, विक्ट्री टनल, चक्कर, बालुगंज, टुटू, नाभा, फागली, खलीनी, जतोग और विकास नगर क्षेत्र सम्मिलित किए गए हैं।
सैक्टर-4 में विक्ट्री टनल, कार्ट रोड़ छोटा शिमला तक, ओकओवर, यूएस क्लब, रिज, हाॅलीलाॅज, जाखू, रिचमांउट, रामचन्द्र चैक, केएनएच, उच्च न्यायालय और डीसी आॅफिस क्षेत्र शामिल किए गए हैं।
सैक्टर-5 में छोटा शिमला, मैहली, कसुम्पटी, पंथाघाटी, हिमाचल प्रदेश सचिवालय और ब्राॅकहाॅस्ट क्षेत्र शामिल किए गए हैं।
इन सभी सैक्टर में संबंधित विभागों के अधिकारियों की तैनाती की गई है। उपायुक्त कार्यालय परिसर में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिससे कि दूरभाष संख्या 1077 के माध्यम से संपर्क किया जा सकता है।
उपायुक्त ने सभी अधिकारियों को बेहतर समन्वय और सूचनाओं का सही समय पर संप्रेषण करने के निर्देश देते हुए कहा कि बर्फबारी व अन्य आपात स्थितियों के दौरान सभी को पूर्ण दक्षता के साथ कार्य सुनिश्चित करना चाहिए।
उन्होंने नगर निगम शिमला को बर्फबारी के दौरान नागरिकों को आधारभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिए समयबद्ध जरूरी कदम उठाने के निर्देश देते हुए कहा कि विद्युत बोर्ड और सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग इस दौरान नागरिकों को पेयजल और विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से बनाने के लिए सभी तैयारियां समयबद्ध पूर्ण करें।
उपायुक्त ने अस्पताल प्रशासन, पीडब्ल्यूडी, नेशनल हाईवे, परिवहन, खाद्य आपूर्ति, हिमाचल पथ परिवहन निगम, अग्निशमन, पुलिस विभाग, होमगार्ड तथा अन्य सभी विभागों को स्नो मैनुअल के अनुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
उन्होंने पर्यटन विभाग को पर्यटकों को सूचनाएं समयबद्ध उपलब्ध करवाने के साथ-साथ उन्हें गुणवत्तापूर्ण सेवाएं प्रदान हेतु प्रयास करने के लिए भी निर्देश दिए।
उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को जिला के अन्य क्षेत्रों में बर्फबारी के दौरान यदि कोई मार्ग अवरूद्ध होता है तो उसे अतिशीघ्र बहाल करने के साथ-साथ अधिक बर्फवारी वाले क्षेत्रों में मशीने और उपकरण तैनात करने के निर्देश भी दिए।
उन्होंने चिकित्सा अधिकारियों को समुचित संख्या में एंबुलेंस तैनात करने, चेन वाले एंबुलेंस वाहनों का प्रबंध करने, जिला में पर्याप्त मात्रा में दूध, ब्रैड, अन्य मूलभूत वस्तुओं की समुचित आपूर्ति, डीजल, पैट्रोल व एलपीजी का आवश्यकता के अनुसार प्रबंध करने के निर्देश दिए।
बैठक में पुलिस अधीक्षक शिमला श्री ओमापति जम्वाल, आयुक्त नगर निगम श्री रोहित जम्वाल, एडीएम श्री जीसी नेगी, एसडीएम शिमला शहरी श्री अजीत भारद्वाज, एससी एचपीएसईबी श्री पंकज डडवाल, एससीएनएच श्री अजय वर्मा, सीएमओ डाॅ. नीरज मित्तल, निदेशक मौसम विभाग श्री मनमोहन सिंह, कमांडेंट होमगार्ड श्री बीएस चैहान, खाद्य आपूर्ति अधिकारी श्री श्रवण कुमार, अग्निशमन विभाग के अधिकारी श्री विनोद कुमार शर्मा, हिमाचल पथ परिवहन निगम के वरिष्ठ अधिकारी और विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here