संवेदनशीलता एवं सादगी अपनाएं अधिकारी एवं कर्मचारी: डाॅ. राजीव सैजल

0
443

आई 1 न्यूज़ : संदीप कश्यप

सोलन दिनांक 03.01.2018

सोलन जिले के अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा सहकारिता मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने सोलन जिले के अधिकारियों तथा कर्मचारियों का आह्वान किया है कि वे दैनिक क्रियाकलाप में संवेदनशीलता एवं सादगी अपनाएं। डाॅ. सैजल आज यहां जिले के अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

डाॅ. सैजल ने नववर्ष 2018 की सभी को शुभकामना देते हुए आशा जताई कि नववर्ष हिमाचल एवं सोलन जिले के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।

डाॅ. सैजल ने कहा कि कर्मचारी सरकार की रीढ़ हैं और सरकार की सभी योजनाओं एवं कार्यक्रमों के सफल कार्यान्वयन में कर्मचारियों की विशिष्ट भूमिका है। उन्होंने कहा कि हाल ही में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में नवगठित सरकार जन हितैषी सरकार है तथा अपने अधिकारियों एवं कर्मचारियों के माध्यम से सरकार सभी वर्गों का एकसमान कल्याण सुनिश्चित बनाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश एवं सोलन जिले का सर्वांगीण विकास, आमजन की शिकायतों का त्वरित निवारण तथा समाज के सभी वर्गों का कल्याण वर्तमान प्रदेश सरकार का उद्देश्य है। इस उद्देश्य को सभी के सहयोग से पूरा किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों से आग्रह किया कि वे सरकार के साथ कंधे से कंधे मिलाकर कार्य करंे।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने सत्ता में आते ही भारतीय जनता पार्टी के ‘स्वर्णिम हिमाचल दृष्टि पत्र 2017’ को सरकार का नीतिगत दस्तावेज घोषित किया है। सरकार का नीतिगत दस्तावेज ही नीतियों को निर्धारित करेगा तथा प्रदेश सरकार इसी के आधार पर विकास को जन-जन तक पहुंचाएगी।

डाॅ. सैजल ने कहा कि विकास के लाभ सभी तक पहुंचाने के लिए आमजन के साथ-साथ अधिकारी एवं कर्मचारियों के सकारात्मक सुझाव सदैव आमंत्रित रहेंगे।

उन्होंने कहा कि सोलन जिले में प्राथमिकता के आधार पर विभिन्न अस्पतालों एवं स्वास्थ्य केन्द्रों में चिकित्सकों के खाली पड़े पद शीघ्र भरे जाएंगे।

उन्होंने इस अवसर पर विभिन्न विभागों की कार्यप्रणाली एवं परियोजनाओं की जानकारी भी प्राप्त की।

डाॅ. सैजल ने सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि राष्ट्रीय राजमार्ग के फोरलेन कार्य के कारण क्षतिग्रस्त पेयजल पाईपों को तुरन्त ठीक किया जाए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्देश दिए जाएं कि सड़क कार्य में पेयजल पाईपों को क्षतिग्रस्त होने से बचाया जाए। बैठक में जानकारी दी गई कि वर्तमान में सोलन-परवाणु राष्ट्रीय राजमार्ग के कार्य के कारण 150 पेयजल कुनेक्शन क्षतिग्रस्त हुए हैं।

उन्होंने प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड को निर्देश दिए कि सोलन जिले में वोल्टेज की समस्या से निपटने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएं। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन को निर्देश दिए कि क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में साफ-सफाई सुनिश्चित बनाई जाए। उन्होंने कहा कि अस्पताल में रोगियों को एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड एवं विभिन्न परीक्षणों की सुविधा उचित प्रकार से उपलब्ध होनी चाहिए।

डाॅ. सैजल ने जिला आयुर्वेदिक अधिकारी को निर्देश दिए कि सोलन जिले में विभिन्न स्थानों पर अधिक से अधिक संख्या में आयुर्वेद योग एवं रोेग निदान चिकित्सा शिविर आयोजित किए जाएं। इन शिविरों में लोगों को आयुर्वेद के आधारभूत नियमों एवं खान-पान से संबंधित विस्तृत जानकारी प्रदान की जाए। प्रदेश सरकार आयुर्वेद को जन सुलभ बनाना चाहती है। उन्होंने कृषि विभाग को निर्देश दिए कि कृषि से संबंधित विभिन्न योजनाओं की जानकारी किसानों तक पहुंचाना सुनिश्चित बनाया जाए।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि जिले में कार्यान्वित की जा रही विभिन्न योजनाओं का नियमित अनुश्रवण किया जाएगा। ऐसी बैठकें समय-समय पर आयोजित होगी।

दून के विधायक परमजीत सिंह पम्मी ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखे।

उपायुक्त सोलन राकेश कंवर ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा उन्हें विश्वास दिलाया कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार सभी कार्य को नियत समय में पूरा किया जाएगा।

जिला परिषद अध्यक्ष धर्मपाल चैहान, पुलिस अधीक्षक सोलन मोहित चावला, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक मनोज चैहान, जिले के सभी उपमण्डलाधिकारी, सभी विभागों के वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here