शिमला :चनोग में विधिक साक्षरता शिविर सम्पन्न

0
600

आई 1 न्यूज़ : संदीप कश्यप

शिमला, 10 दिसम्बर,

विकास खण्ड मशोबरा के ग्राम पंचायत चनोग में आज विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता करते हुए सिविल जज एवं जेएमआईसी कोर्ट नम्बर 7 सुश्री दीपाली गंभीर ने कहा कि असहाय, पिछड़ेपन व आर्थिक लाचारी के कारण कुछ लोग अपने अधिकारों के रक्षा के प्रति जागरुक नहीं है फलस्वरुप न्यायिक लड़ाई लड़ने में असमर्थ होते हैं। उन्होने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण का उद्देश्य समाज के इस वर्ग के अतिरिक्त दलित, पिछडे़, अनुसूचित एवं जनजाति के लोगों महिलाओं एवं बच्चों को सही मायने मे सरल और सस्ता न्याय उपलब्ध करवाना है।

उन्होने कहा कि कानूनी प्रक्रिया से अनभिज्ञ लोगों को उनके अधिकारोें व न्याय प्राप्त करने के लिए राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एक कड़ी के रुप में कार्य करता है। उन्होने घरेलु हिंसा, चैक बाऊंस होने की स्थिति में अमल में लाई जाने वाली प्रक्रिया एवं अधिकारों के सम्बन्ध में जागरुक किया।

शिविर में अधिवक्ता मोनिका कौंडल ने प्राथमिकि रिपोर्ट के सम्बन्ध में लोगों को उनके अधिकारोें के सम्बन्ध में जानकारी दी।अधिवक्ता संतोष बाला ने सूचना का अधिकार के सम्बन्ध में लोगों को जागरुक किया एवं अधिवक्ता आदिति ने लोक अदालत के तहत न्याय प्राप्त करने के लिए उपयोग में लाई जाने वाली प्रक्रिया के प्रति जागरुक किया।

उप-प्रधान ग्राम पंचायत चनोग श्री विवेक शर्मा ने राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा उनकी पंचायत मंे इस शिविर के आयोजन के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होने कहा कि ग्रामीण जनता को इस सम्बन्ध में जागरुकता प्रदान करना अत्यंत आवश्यक है। उन्होने कहा कि लोगों को

जहाॅं ऐसे शिविरों से कानूनी प्रक्रिया की जानकारी मिलती है वहीं छोटे मोटे झगड़ों को आपसी रजामंदी से समाप्त करने के लाभ सम्बन्धी जानकारी मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here