मोहाली। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (SGPC) के 42 वें अध्यक्ष के रूप में चुने जाने के एक दिन बाद गोविंद सिंह लोंगोवाल मोहाली स्तिथ अम्ब साहिब गुरुद्वारे मे माथा टेकने पहुचे थे।

0
687

आई 1 न्यूज़ मोहाली। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (SGPC) के 42 वें अध्यक्ष के रूप में चुने जाने के एक दिन बाद गोविंद सिंह लोंगोवाल मोहाली स्तिथ अम्ब साहिब गुरुद्वारे मे माथा टेकने पहुचे थे। sgpc के नए प्रधान गोविंद सिंह लोंगोवाल ने भगवान का शुक्रिया किया और बाद में शिरोमणि अकाली दल के लीडर सरदार प्रकाश सिंह बादल का धन्यवाद किया साथ ही सभी लीडरशिप का भी धन्यवाद किया लोंगोवाल ने एसजीपीसी के सभी मेंबरों का धन्यवाद किया पत्रकारों के सवालों के जवाब में लोंगोवाल ने कहा कि यह बहुत बड़ी जिम्मेदारी है मैं अपनी पूरी जिम्मेदारी इमानदारी के साथ निभाऊंगा और सीखी के प्रचार को तेज करने के लिए समूह सिख संगत को साथ लेकर सीखी के प्रचार को आगे बढ़ाऊँगा लोंगोवाल ने सफाई देते हुए कहा कि मैं कभी भी वोट के लिए गुरमीत राम रहीम की अध्यक्षता में सिरसा स्थित डेरे नहीं गए थे या किसी अन्य उद्देश्य के लिए।

to day news in chandigarh

मीडिया के सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि मैं किसी भी वाद विवाद में नही पड़ना चाहता मुझे पंथ के प्रचार के लिए नियुक्त किया गया और मैं अपना काम करूंगा कोई मेरा विरोध कर रहा है मुझे नहीं पता ,इसी बीच प्रोफ़ेसर प्रेम सिंह चंदूमाजरा बीच बचाव मे उतरे लेकिन मीडिया के सामने उनकी एक न चली ,इसी बीच सवालो मे घिरते एसजीपीसी प्रधान प्रेस कॉॉंफ्रेंस से उठ कर चलते बने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here