निर्धन असहाय लोग कानूनी सहायता से वंचित न रह पाएं : पढ़े पूरी खबर

0
499

आई 1 न्यूज़ : संदीप कश्यप
शिमला 26 नवम्बर,
न्यायिक प्रक्रिया के प्रति ग्रामीण जनता को जागरूकता प्रदान करने के उद्देश्य से आज शिमला जिला के मशोबरा और बसंतपुर विकास खंड के विभिन्न क्षेत्रों में विधिक साक्षरता शिविरों का आयोजन किया गया।
अतिरिक्त जिला सत्र न्यायधीश (सीबीआई) श्री वीरेंद्र ठाकुर ने ग्राम पंचायत ढली में आयोजित शिविर की अध्यक्षता करते हुए मुफ्त कानूनी सहायता संबंधी जानकारी प्रदान की।
उन्होंने बताया कि मुफ्त कानूनी सहायता प्राप्त करने के लिए पात्र व्यक्ति की समस्त स्त्रोतों की वार्षिक आय एक लाख रुपये तथा वरिष्ठ नागरिकों के लिए वार्षिक आय दो लाख रुपये होनी अनिवार्य है।
उन्होंने कहा कि निर्धन असहाय लोग कानूनी सहायता से वंचित न रह पाएं, इसके लिए मुफ्त कानूनी सहायता का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि यह सहायता महिलाओं के लिए मुफ्त उपलब्ध करवाई जाती है, जबकि अनुसूचित जाति, जनजाति, नाबालिग बच्चे, मानसिक रूप से बीमार व आपदा पीड़ित लोग इस सहायता के पात्र हैं।
ग्राम पंचायत जनेड़घाट में आयोजित शिविर मंे अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायधीश-2 श्रीमती अपर्णा शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि लोगों में कानूनी साक्षरता व जागरूकता पैदा करना, कानूनी कार्यवाही में सुलह व समझौतों द्वारा फैसला करने के लिए प्रोत्साहित करना तथा शीघ्र व सस्ता न्याय दिलवाना इन शिविरों का मूल उद्देश्य है। उन्होंने भी मुफ्त विधिक सहायता के लिए भी पात्र, प्रक्रिया तथा प्रकार पर विस्तृत जानकारी प्रदान की।
यहां अधिवक्ता अमित चैहान ने उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, सूचना का अधिकार तथा अधिवक्ता श्री सुनील नेगी ने वृद्धजनों व माता-पिता के खर्चे व भरण-पोषण के बारे में जानकारी प्रदान की।
बसंतपुर विकास खंड की ग्राम पंचायत देवला में आयोजित विधिक साक्षरता शिविर में अतिरिक्त जिला सत्र एवं न्यायधीश-1 श्री मदन कुमार ने महिला कानून के अतिरिक्त विभिन्न अन्य अधिनियमों व कानूनों के बारे में विस्तृत जानकारी व जागरूकता ग्रामीण जनता को प्रदान की। शिविर में विशेष सचिव राजस्व व आपदा प्रबंधन श्री डीडी शर्मा ने विभिन्न आपदाओं के समय प्राथमिक सहायता, बचाव व खोज के विभिन्न तरीकों के प्रति जानकारी प्रदान की।
उन्होंने कहा कि नागरिकों का कर्तव्य है कि प्राप्त संसाधनों का सही उपयोग कर बहुमूल्य मानव जीवन को बचाने का प्रयास करें।
सेवा निवृत जिला एवं सत्र न्यायधीश श्री एमडी शर्मा ने भी शिविर में विभिन्न कानूनी पहलुओं पर जागरूकता प्रदान की। अधिवक्ता श्री श्रवण शर्मा व श्री सुनील शर्मा ने भी बहुमूल्य जानकारी प्रदान की।
इन शिविरों में स्थानीय लोगों तथा पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों सहित लगभग 350 लोगों ने जानकारी प्राप्त की। ढली पंचायत के प्रधान श्री जीत सिंह कंवर, जनेड़घाट की प्रधान श्रीमती सुषमा रावत तथा देवला पंचायत के प्रधान श्री राकेश कुमार ने स्वागत किया तथा ग्रामीण जनता से शिविर के दौरान प्रदान की गई बहुमूल्य जानकारी को अन्य लोगों तक पहुंचाने की अपील भी की।
शिविर में नाज़र दिनेश शर्मा, प्रवेश शर्मा व सुरेश चैहान भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here