लीकर कांट्रैक्टर कमल बजाज ने एक्साईज विभाग के अधिकारियों पर उन्हें जानबूझकर तंग करने का आरोप लगाया है।

0
782
ऑय 1 न्यूज़ ब्यूरो रिपोट  लीकर कांट्रैक्टर कमल बजाज ने एक्साईज विभाग के अधिकारियों पर उन्हें जानबूझकर तंग करने का आरोप लगाया है। इसी के साथ ही उन्होने आरोप लगाया है कि एक्साईज विभाग ने पाॅलिसी में बिना संशोधन किए चंडीगढ़ में बार वालों के लाईसेंस जारी कर दिए जब कि ऐसा बिना पाॅलिसी में संशोधन किए ऐसा किया नहीं जा सकता। जिसको अब वह पंजाब एंव हरियाणा हाईकोर्ट में चुनौती देंगें।  कमल बजाज ने कहा कि एक्साईज विभाग के तीन अधिकारी राकेश कुमार पोपली, ईटीओ रमेश भटेजा और रमेश चुघ द्वारा उन्हें जानबूझकर तंग किया जा रहा है। उन पर दबाव बनाया जा रहा है ताकि वह एफआईआर वापस लें। उन्होने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आर्डर के बाद  मध्य मार्ग व  हिमालय मार्ग पर उन्होने अपने दो ठेके दोबारा स्थानांतर किए जाने की एक्साईज विभाग के अधिकारियों से अपील की थी जिसको लेकर उन्होने प्रेजेनटेशन भी दी। लेकिन अधिकारियों द्वारा कोई जवाब नहीं दिया गया। जब कि मध्य मार्ग व हिमालय मार्ग बार वालों के लाईसेंस दिए गए है। वह भी बिना किसी पाॅलिसी में संशोधन किए। उन्होने जब इस पर सवाल पूछा तो विभाग के अधिकारी कोई जवाब नहीं दे सके। अब वह एक्साईज विभाग के इन अधिकारियों से असंतुष्ट होकर पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट में जाएंगें। और अपना पक्ष रखेंगें। 


बाईट – कमल बजाज, लीकर कांट्रैक्टर (रिटेलर)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here