छह दिन बीत जाने पर भी 11 वीं कक्षा में पढ़ने वाले कुलचीफ का कुछ पता नहीं लग पाया है।

0
609
ऑय 1 न्यूज़ अमित सेठी छह दिन बीत जाने पर भी 11 वीं कक्षा में पढ़ने वाले कुलचीफ का कुछ पता नहीं लग पाया है। जिस पर अब परिजनों ने उसके बारे में बताने वाले को एक लाख रूपये ईनाम देने की घोषणा की है। और इसको लेकर जगह जगह पोस्टर भी लगाए हैं।  कुलचीफ की बहन रंजीवा बताती हैं कि उसका भाई सैक्टर-36 के गुरु नानक पब्लिक स्कूल में 11वीं में पढ़ रहा है। 22 सितंबर की शाम कुलचीफ कोचिंग सैंटर की तलाश में सैक्टर-36 की मार्कीट के लिए निकला था पर उसके बाद से घर नहीं लौटा। कुलचीफ की कॉपी में एक डायग्राम मिला, जिसे देख उसने परिजनों ने ब्लू व्हेल गेम की आशंका जताई है।  कुलचीफ की मोबाइल की आखिरी लोकेशन जांची जो मोहाली रेलवे स्टेशन की मिली। इसके बाद कुलचीफ का मोबाइल बंद हो गया।
बाइट : रंजीवा, कुलचीफ की बहन
इसके अलावा कुलचीफ के परिजनों ने कई शहरों में कुलचीफ की गुमशुदगी के पोस्टर लगा दिए हैं। परिजनों ने कुलचीफ का सुराग देने वाले को एक लाख रुपए ईनाम की घोषणा की है। वहीं पुलिस टीम उसकी तलाश होशियारपुर में भी कर रही है। क्यों कि कुलचीफ मूल रूप से होशियारपुर का रहने वाला है।
बाइट :  रंजीवा, कुलचीफ की बहन
इस मामले में जब कुलचीफ के स्कूल प्रिंसिपल से बात की गई तो उनका कहना था कि उनकी ओर से पुलिस और कुलचीफ के परिजनों को पूरा सहयोग दिया जा रहा है। कुलचीफ के बाद उसके दोस्तों और दोस्तों के पेरेंट्स से भी इस मामले को लेकर बात की गई है। इसके साथ साथ स्कूल में भी बच्चो की काउंसलिंग की जा रही है।
बाइट : स्कूल प्रिंसिपल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here