प्रदेश की वार्षिकी आय में बागवानी का महत्वपूर्ण योगदानः विद्या स्टोक्स

0
513
today news in hindi chandigarh
ऑय 1 न्यूज़ ब्यूरो रिपोट शिमला, 19 सितम्बर प्रदेश की वार्षिकी आय में बागवानी का महत्वपूर्ण योगदानः विद्या स्टोक्स बागवानी विकास के क्षेत्र में हिमाचल प्रदेश ने देश में अपनी अलग पहचान बनाई है। बागवानी का राज्य की वार्षिक आय में लगभग पांच हजार करोड़ रुपये का योगदान है, जिससे औसतन नौ लाख लोगों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलता है। यह बात सिचांई एवं जनस्वास्थ्य, बागवानी एवं सूचना प्राद्यौगिकी मंत्री श्रीमती विद्या स्टोक्स ने आज ठियोग में आयोजित दो दिवसीय किसान-बागवान मेले में जनसभा को संबोधित करते हुए कही।
श्रीमती विद्या स्टोक्स ने किसान-बागवान मेले की प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। उन्होंने सिविल अस्पताल ठियोग का निरीक्षण भी किया।  विद्या स्टोक्स ने कहा कि बागवानी व खेतीबाड़ी प्रदेश के लोगों का मुख्य व्यवसाय है तथा प्रदेश सरकार किसानों के विकास के लिए कृतसंकल्प है। उन्होंने कहा कि बागवानों ने प्रदेश की आर्थिकी को सुदृढ़ बनाने में अपनी अहम भूमिका निभाई है गत साढ़े चार वर्षों के दौरान प्रदेश में बागवानी विभाग द्वारा उच्च गुणवत्ता वाले 34.81 लाख फलदार पौधे तैयार किए गए हैं उन्होंने कहा कि 115.30 लाख फलदार पौधे बागवानों को प्रदान कर लगभग 35295.30 हैक्टेयर भूमि को बागवानी के अंतर्गत लाया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लगभग 49 लाख लोग बागवानी व खेती बाड़ी से अपनी आजीविका कमा रहे हैं उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह नेे बागवानी खेती-बाड़ी के क्षेत्र में किसानों-बागवानों को हमेशा प्रोत्साहित किया है। उन्होंने कहा कि किसान-बागवान मेले के आयोजन का उद्देश्य किसानों व बागवानों को नई आधुनिक शैली के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर जागरूक करना है। उन्होंने जिला के विभिन्न खंडों के 49 किसानों को बागवानी, कृषि व पशुपालन में उत्कृष्ट उपलब्धि के लिए प्रत्येक किसानों को 10-10 हजार रुपये की राशि तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। यह पुरस्कार राशि कृषि विभाग द्वारा आत्मा परियोजना (कृषि प्रोद्योगिकी प्रबंधन अभिकरण) के तहत प्रदान की गई। जिला के चार महिला कृषक समूह को भी 20-20 हजार रुपये की राशि प्रदान की गई   स्टोक्स ने सेब के उत्पादन व गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए संबंधित विभाग के प्रयासों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सेब को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लाने के लिए भरसक प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा युवाओं को बागवानी व कृषि के क्षेत्र में अत्याधुनिक प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए कार्ययोजना तैयार की जा रही है।  इस योजना के तहत युवाओं को बागवानी के क्षेत्र में तीन-चार महीनों के प्रशिक्षण के लिए न्यूजीलैंड भेजा जाएगा, ताकि वह बागवानी व कृषि के क्षेत्र में अत्याधुनिक तकनीक का प्रशिक्षण प्राप्त कर अपनी आर्थिकी को और सुदृढ़ कर सके। विद्या स्टोक्स ने इस अवसर पर कृषि व बागवानी  से संबंधित ‘काॅम्यूनिटी आॅपरेशन मैनुअवल’ का विमोचन किया, जिसमें कृषि व बागवानी से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गई है।
एचीपीएमसी के उपाध्यक्ष  प्रकाश ठाकुर ने सेब के उत्पादन व गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए चलाई गई विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कृषि-बागवानी के विश्वविद्यालयों के विशेषज्ञांे द्वारा किए जा रहे अनुसंधान के प्रति संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि विभिन्न विश्वविद्यालयों द्वारा उत्कृष्ठ श्रेणी के फलदार पौधे तैयार किए जा रहे हैं, जिससे प्रदेश के फलों की गुणवत्ता में काफी सुधार हुआ है।
श्री ब्रह्मानन्द शर्मा ने अपने संबोधन में बागवानी के क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास का श्रेय बागवानी मंत्री को दिया। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में न केवल बागवान, बल्कि प्रदेशभर के किसान व पशुपालकों की आर्थिकी सुदृढ़ हुई है।
इस मौके पर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ठियोग की छात्राओं ने मनमोहक लोकनृत्य प्रस्तुत किया तथा सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने गीत व लघु नाटिका के माध्यम से प्रदेश सरकार की योजनाओं के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की।
श्रीमती विद्या स्टोक्स ने अपनी ऐच्छिक निधि से सांस्कृतिक कार्यक्रम की गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए स्कूल की छात्राओं को 25 हजार रुपये देने की घोषणा की, जबकि कृषि विभाग द्वारा उन्हें पांच हजार रुपये की राशि प्रदान की गई।
इस अवसर पर उपाध्यक्ष हिमाचल प्रदेश एचपीएमसी श्री प्रकाश ठाकुर, मंडलाध्यक्ष कांग्रेस कमेटी श्री ब्रह्मानन्द, महासचिव जिला कांग्रेस श्री विवेक थापर, कार्यकारी निदेशक, एचपीएमसी श्री एचआर शर्मा, महाप्रबंधक एचपीएमसी श्री सुरेंद्र माल्टू, एचपीएमसी के निदेशक मंडल श्री लेखराज, बीडीसी सदस्य रोहड़ू शीला सागर, तहसीलदार श्री नारायण वर्मा व अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।
.0.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here