चंडीगढ़ प्रेस कल्ब में ए.बी.एस ने भारत में सेक्ससेल सेक्सेड जेनेटिक्स लॉन्च किया

0
922
today news in hindi chandigarh

ऑय 1 न्यूज़ ब्यूरो रिपोट चंडीगढ़, 31 अगस्त, 2017: जीनस पीएलसी का एक डिवीजन, ए.बी.एस इंडिया (एबीएस), ने चंडीगढ़ में एबीएस सेक्ससेल सेक्सेड डेयरी जेनेटिक्स को लॉन्च किया। इन जेनेटिक्स को 21 वीं सदी की तकनीक का उपयोग करते हुए डिजाइन किया गया है ताकि डेयरी हर्ड्स को देश भर में उच्च मूल्य वाला गर्भधारण हो सके। एबीएस सेक्ससेल आज से भारतीय डेयरी फार्मर्स को आयात कीमतों से 30 से 40 प्रतिशत कम कीमत पर उपलब्ध होंगे।

सांगली, महाराष्ट्र के ब्रह्मा जेनेटिक्स में चिताले जीनस एबीएस इंडिया के तहत अपनी अत्याधुनिक तकनीक को लागू किया गया है। इस सुविधा को, जीनस एबीएस और बी.जी.चिताले डेयरी प्राइवेट लिमिटेड के बीच एक संयुक्त उत्पादन उद्यम के तौर पर स्थापित किया गया है। इस सुविधा को प्रधानमंत्री के ‘मेक इन इंडिया’ की पहल के तहत रिकार्ड समय में तैयार किया गया है।

एबीएस सेक्ससेल सेक्सेड डेयरी जेनेटिक्स किसानों और उनके उपभोक्ताओं को समान रूप से लाभान्वित करेगा, और भारतीय डेयरी में एक बड़ा बदलाव होगा। इसमें राष्ट्र के लिए दूध की उपलब्धता में वृद्धि करने की क्षमता है। इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि भारतीय नस्लों जैसे साहीवाल, गिर, रेड सिंधी और मुर्रा भैंसों का सेक्सड वीर्य पहली बार हर डेयरी फार्मर् को उपलब्ध होगा। ये विशेष तौर पर प्रत्येक छोटे और सीमित सुविधाओं वाले फार्मर्स को उपलब्ध होगा।

एबीएस सेक्ससेल एबीएस का सबसे अच्छा जेनेटिक्स है। सेक्सिंग बोवाइन वीर्य इस नई और बेहतर तकनीक से उत्पादित किया गया है। ये एक नई तकनीक है और इसमें पशुओं के संभोग से इसे प्राप्त किया जाता है और अभी तक सीमन के लिए जिन उच्च दबाव, विद्युत करंट और अन्य प्रकार का बल प्रयोग किया जाता था, उनमें से किसी का उपयोग इसमें नहीं किया गया है। इस नई तकनीक के परिणामस्वरूप एक बेहतर लिंगी आनुवांशिकी उत्पाद प्राप्त होता है जो ग्राहकों को अपने व्यक्तिगत आर्थिक लाभ और फीमेल बछड़ों की संख्या बढ़ाने के लक्ष्य में मदद करता है।

चंडीगढ़ प्रेस क्लब में लॉन्च के अवसर पर एबीएस इंडिया के प्रबंध निदेशक डॉ. अरविंद गौतम ने कहा कि ‘यह एबीएस इंडिया और उसके ग्राहकों के लिए एक रोमांचक और ऐतिहासिक क्षण है।एबीएस सेक्ससेल फार्मर्स को अपने ऐच्छिक जेनेटिक आकलन को प्राप्त करने के लिए एक नया विकल्प देता है और आनुवांशिक प्रगति के माध्यम से उन्हें लाभ देगा। हमारे पास एक अनूठा उत्पाद है, और परीक्षण के नतीजे यह दिखाते हैं कि यह हमारे ग्राहकों के लिए एक प्रभावी पेशकश है। पहली बार, देशी गावों की नस्लों जैसे साहीवाल, लाल सिंधी, गिर और मुर्रा भैंसों के सेक्सड वीर्य भारत में उपलब्ध होंगे।’

जीनस एबीएस इंडिया के उत्पादन प्रमुख डॉ. राहुल गुप्ता ने कहा कि ‘एबीएस सेक्ससेल सेक्सड जेनेटिक्स की उपलब्धता के साथ, भारतीय डेयरी किसान अब अपनी गायों को इस नई इंटेलीजैन प्रौद्योगिकी का उपयोग करके अधिक मादा गायों का उत्पादन करने के लिए विशेष रूप से लैंगिक आनुवंशिकी के साथ अधिक गायों का उत्पादन कर सकते हैं। जीनस इंटेलीजैन प्रौद्योगिकी में एक नयी, अत्याधुनिक, लेजर-किल तकनीक के माध्यम से फीमेल सेक्सड वीर्य का उत्पादन किया गया है।’

श्री विश्वास चिताले, डायरेक्टर, चिताले जीनस एबीएस इंडिया प्रा. लि. ने कहा कि ‘अभी तक फ्रोजन सेक्सड वीर्य पारंपरिक तौर पर सिर्फ आयात के माध्यम से उपलब्ध है। इसके साथ ही कई कड़ी व्यापार शर्तों की बाधाएं भी हैं, अनुमति में कई राज्य और केंद्रीय एजेंसियों से अनुमोदन प्राप्त करना शामिल हैं। इस सब के बावजूद इसका मिल पाना मुश्किल ही होता है और समय और पैसा भी काफी लगता है। भारतीय फार्मर्स काफी समय से स्थानीय रूप से सैक्स आधारित लैंगिक वीर्य के लिए इंतजार कर रहे हैं। हमें चिताले डेयरी से जुड़े हजारों किसानों को सेक्ससेल का लाभ देने में काफी खुशी हो रही है और हमारे ग्राहकों को इससे और अधिक दूध उत्पादन मिलेगा।’

डॉ. अरविंद गौतम ने कहा कि ‘हमे पता चला है कि हमारे ग्राहक सेक्सड जेनेटिक्स की मजबूत लाइन-अप की तलाश कर रहे हैं और सेक्ससेल इसे बाजार तक ले आया है। इस पूरी तरह से बदलाव लाने वाली नई टेक्नोलॉजी, फार्मर्स को उनके जेनेटिक प्रगति की तरफ आगे बढ़ाते हैं। यह अपने बेहतरीन सांडों को अपने मौजूद पशुओं के बदलाव के लिए उत्पादन करने में सक्षम बनाता है, जबकि फार्मर्स को उनकी विशिष्ट जरूरतों के अनुरूप सेक्स करने वाले जेनेटिक्स का एक विकल्प भी प्रदान करते हैं।’

भारत में यौन वीर्य का उत्पादन भारतीय डेयरी किसानों के लिए एक ऐतिहासिक बदलाव एवं प्रगति है। भारतीय किसान अब अपनी गायों को साहीवाल, रेड सिंधी और गिर और मुर्रा भैंस जैसे स्वदेशी पशुओं के लिंगयुक्त आनुवंशिकी के साथ पैदा कर सकते हैं। उच्च आनुवंशिकी के साथ जोड़कर, लैंगिक वीर्य का फार्मर्स के लाभ पर महत्वपूर्ण सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। भारत में एबीएस सेक्ससेल सेक्सेड वीर्य सुविधा अद्वितीय है और अमेरिका से बाहर पहली बार प्रदान की जा रही है।

श्री एंड्रयू आइरे, ब्रिटिश डिप्टी हाई कमिश्नर भी इस मौके पर उपस्थित थे और देश में नवीनतम तकनीक लाने और उन्होंने भारत में एबीएस सेक्ससेल बनाने के लिए जीनस पीएलसी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि ‘यह ब्रिटेन और भारतीय डेयरी उद्योग के लिए लाभ देने वाला ऐतिहासिक दिन है, जिससे फार्मर्स सरकार द्वारा लक्षित 2022 तक अपनी आय को दोगुना करने में मदद मिलती है।’

आज के लॉन्च से पहले, सेक्सेड आनुवंशिकी प्रसंस्करण उद्योग में प्रतियोगिता प्रतिबंधित थी। आज का शुभारंभ पहली बार एक नए और पूरी तरह से अलग प्रौद्योगिकी से उत्पन्न सेक्सेड जेनेटिक्स का प्रतीक है। मार्च 2017 में, यू.एस. फेडरल कोर्ट ने कहा कि सेक्सिंग टेक्नोलॉजीज (एसटी) ने अमेरिका में सेक्सिंग बोवाइन वीर्य प्रोसेसिंग के लिए बाजार में जानबूझकर एकाधिकार शक्ति बनाए रखी थी और एसटी के खिलाफ स्थायी निषेधाज्ञा दी थी। अदालत के फैसले से सेक्सेड जेनेटिक्स के लिए ग्राहक प्रौद्योगिकी पसंद के महत्व को मान्य किया गया है।

सेक्ससेल के बारे में अधिक जानने के लिए, www.abssexcel.com

एबीएस के बारे में
डीफॉरेस्ट, विस्कॉन्सिन, अमेरिका, में मुख्यालय के लिए एबीएस ग्लोबल, पूरे विश्व में वोवाइन जेनेटिक्स, प्रजनन सेवाओं, कृत्रिम गर्भनाल प्रौद्योगिकियों, और अड्डर केयर उत्पादों का प्रमुख प्रदाता है। विश्वभर में 70 से अधिक देशों में विपणन के साथ, 1941 में इसकी स्थापना के बाद से एबीएस पशु आनुवंशिकी और प्रौद्योगिकी के मामले में सबसे आगे रहा है। एबीएस ग्लोबल जीनस पीएलसी की एक डिवीजन है जो कि पशु आनुवंशिकी में वैश्विक अग्रणी है।

जीनस पीएलसी के बारे में
दुनिया भर में लगभग 2700 कर्मचारियों के साथ एक ब्रिटिश-आधारित सार्वजनिक रूप से कारोबारी कंपनी के तौर पर जीनस, जैव प्रौद्योगिकी के माध्यम से पशुओं के प्रजनन के लिए विज्ञान का उपयोग करता है और पशुओं की फार्मिंग और खाद्य उत्पादकों के लिए मूल्य संवर्धित उत्पादों की बिक्री करता है। जीनस का यूके में बेसिंगस्टोक में मुख्यालय है और यह लंदन स्टॉक एक्सचेंज पर सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनी है और एफटीएसई 250 सूचकांक के एक प्रमुख घटक है। यह यूके में आवश्यक कॉर्पोरेट प्रशासन के उच्चतम मानकों के अनुरूप काम करती है और एक मजबूत और स्थिर शेयरधारक पंजीकरण से लाभान्वित है।

जीनस एबीएस इंडिया और एबीएस ग्लोबल, जीनस पीएलसी का हिस्सा हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here