0
461
 ऑय 1 न्यूज़ ब्यूरो रिपोट  पंजाब बीजेपी किसान मोर्चा ने आज पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के सरकारी निवास स्थान का घेराव करने की कोशिश की पर उन्हें पंजाब बीजेपी के मुख्यालय सेक्टर 37 के अगले चौक में रोक दिया गया और चंडीगढ़ पुलिस द्वारा उन पर पानी की बौछारें की गई। सुखपाल सिंह नन्नू तथा बीजेपी पंजाब के उपप्रधान हरजीत सिंह ग्रेवाल के नेतृत्व में पंजाब बीजेपी किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने हाथों में झंडे लेकर प्रोटेस्ट निकाला। यह लोग मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का अपने चुनावी घोषणापत्र में किसानों के साथ किए गए कर्ज माफी के वादों को पूरा ना करने का विरोध कर रहे थे। चंडीगढ़ पुलिस ने इनको तितर-बितर करने के लिए इन पर पानी की बौछारें की और इन्हें वापस भेजा।
पंजाब भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के प्रधान सुखपाल सिंह नन्नू ने कहा कि जब से कांग्रेस सरकार ने मरने वाले किसानो को 10 लाख रुपए और परिवार में एक नौकरी देने का वादा किया है उसके बाद से किसानों में आत्महत्या करने की घटनाओं में वृद्धि हुई है। हम यह मांग करते हैं के किसानों को आत्महत्या के लिए उकसाने के एवज में मुख्यमंत्री पर मामला दर्ज हो तथा मुख्यमंत्री इस्तीफा दे ।कांग्रेस ने झूठ बोलकर चुनावों में वोट लिए हैं और अब वह अपने किए हुए वादे पूरे नहीं कर रही
 यदि किसानों की मुश्किलों का हल नहीं किया गया तो हम जिला लेवल पर बड़े आंदोलन करेंगे तथा जब तक किसानो का पूरा कर्जा माफ नहीं होता तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा।
वाइट सुखपाल सिंह नन्नू प्रधान भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा प्रधान पंजाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here