केन्द्र एवं प्रदेश सरकार के दिशा-निर्देशानुरूप जिला प्रशासन द्वारा कैशलेश व्यवस्था को बढ़ावा देने के सघन प्रयास किए जा रहे हैं।

0
672

अमित सेठी सोलन 14.04.2017 कैशलेस व्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए सघन प्रयास संदीप नेगी उपायुक्त सोलन संदीप नेगी ने कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार के दिशा-निर्देशानुरूप जिला प्रशासन द्वारा कैशलेश व्यवस्था को बढ़ावा देने के सघन प्रयास किए जा रहे हैं। प्रशासन को इस दिशा में आशातीत सफलता भी मिली है। संदीप नेगी आज यहां जिला प्रशासन द्वारा आयोजित डिजी धन मेला कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थे। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का महाराष्ट्र के नागपुर में नीति आयोग के समारोह का लाईव वैब कास्ट भी दिखाया गया। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर भीम एप (भीम आधार सेवा) का शुभारम्भ किया। संदीप नेगी ने कहा कि डिजिटल लेन-देन जहां क्रेता एवं विक्रेता के लिए लाभदायक है वहीं इससे समय की बचत भी होती है। इस दिशा में जिले के लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कैशलेस प्रणाली की सफलता आमजन पर निर्भर करती है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि अपने दैनिक क्रियाकलापों में भी कैशलेस व्यवस्था को अपनाएं। इस दिशा में बैंकों को और अधिक सक्रिय भूमिका निभानी होगी। जिले के अग्रणी बैंक यूको बैंक के प्रबन्धक जेपी नेगी ने इस अवसर पर कैशलेस व्यवस्था को प्रोत्साहित करने के लिए एक प्रस्तुतीकरण दिया। उन्होंने कहा कि विभिन्न बैंकों ने कैशलेश व्यवस्था को लोकप्रिय बनाने एवं लोगों को जागरूक बनाने के लिए अनेक स्तरों पर कार्य किया है। उन्होंने कहा कि गत सौ दिनों में जिले के विभिन्न भागों में एक सौ डिजिटल मेले आयोजित किए गए। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे आधार क्रमांक आधारित भुगतान प्रणाली अपनाएं। यह जहां अत्यन्त सुरक्षित है वहीं आधार क्रमांक के माध्यम से आॅनलाईन भुगतान पर कोई शुल्क देय नहीं है। अप्रैल, 2018 तक 70 प्रतिशत लेन-देन आधार क्रमांक के माध्यम से करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। नाबार्ड के डीडीएम रविन्द्र सिंह, जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी भानू गुप्ता, विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधि, ग्राम पंचायतों एवं नगर परिषद सोलन के स्वयं सहायता समूह सदस्य, महिला मण्डल प्रतिनिधि एवं आमजन इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here