आवारा पशुओं पर उठाये सवालों पर हाईकोर्ट में जनहितयाचिका की सुनवाई पर हाईकोर्ट ने जारी किया हरियाणा सर्कार को नोटिस

0
516

अमित सेठी 20 फरबरी 2017   आवारा पशुओं पर उठाये सवालों पर हाईकोर्ट में जनहितयाचिका की सुनवाई पर हाईकोर्ट ने जारी किया हरियाणा सर्कार को नोटिस जारी,22 मार्च तक हरियाणा सर्कार को करना होगा जवाब दाखिल,अवर पशुओं से इंसानी ज़िन्दगी को हो रहे नुकसान का उठाया गया मुद्दा तो मियुनिसिपल कौस्नइल के कार्यप्रणाली पर उठाये सवाल

आवारा पशुओं को लेकर संसय हर तरफ बानी रहती है तो इसके सम्बन्ध ने पंजाब हरियाणा उच्च न्यालय में जनहित याचिका दायर की गई है जिसके चलते हरियाणा सर्कार को 22 मार्च तक नोटिस जारी जवाब दाखिल करने का समय दिया है मुख्य तोर पर आवारा पशुओं से आम लोगों को हो रही परेशानी व् एक्सीडेंट के मुद्दे पर सवाल उठाये गए हैं.

पंजाब हरियाणा उच्च न्यालय में अमित चौधरी दुआरा एक जनहित याचिका दायर की गई है जिसमे सवाल उठाये गए हैं की आखिर हरियाणा सर्कार दुआरा 2006 में नोटिफिकेशन जारी किया गया था जिसमे आवारा पशुओं के संभल और उनकी रजिस्ट्रेशन करने की जिम्मेदारो नागर निगम व् काउंसिलों को दी गई थी साथ ही उसके बाद कैटल कंपयून्ड बनाने के आदेश जारी हुए थे लेकिन उसमे मियुनिसिप[अल काउंसिलों ने अपनी जिम्दारी सही से नहीं निभाई जिसमे सवाल खड़ा ये होता है की जब इंसानी जिंदगियों को एक्सीडेंट में जो हानि पहुँचती है उसका भुगतान कोण करेगा जिसको लेकर जनहित याचिका दायर की गई जिस पर उच्च न्यालय ने हरियाणा सर्कार को नोटिस जारी करते हुए 22 मार्च तक अपना पक्ष रखने का समय दिया है.

Bite:अमित चौधरी (वकील)

अमित चौधरी ने सवाल उठाया है की मियुनिसिपल कॉउंसिल अपना काम सही से नहीं कर रही जिसके चलते जनता की परेशानी का सबब आवारा पशु बन रहे हैं और जान खतरा बन रहे हैं अब देखना होगा की हरियाणा सर्कार अपने पक्ष के तोर पर न्यालय में क्या सफाई रखती है चंडीगढ़ से कैमरामेन राजेश कुमार के साथ सुमित जोशी लिविंग इण्डिया न्यूज़.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here