पीयू में फिर बढ़ेगी परीक्षा व् ट्यूशन फीस,वित्त संकट को कम करने के पीयू का कदम,यूजीसी ने दिए 44 करोड़ तो पंजाब सर्कार को भी लिखा पीयू ने ग्रांट के लिए पत्र

0
474
अमित सेठी 27-12-2016 पीयू में फिर बढ़ेगी परीक्षा व् ट्यूशन फीस,वित्त संकट को कम करने के पीयू का कदम,यूजीसी ने दिए 44 करोड़ तो पंजाब सर्कार को भी लिखा पीयू ने ग्रांट के लिए पत्र,यूजीसी को 15 जनवरी तक भेजेगी पीयू जवाब उसके लिए चैरमानो के साथ वीसी ने की मीटिंग अपनी जरूरतों को कम करने के लिए मंथन
A/l:पीयू लम्बे शामे से  करोड़ों रु के वित्त संकट से जूझ रहा है तो उसमे अध्यापको के मासिक वेतन तक मुस्बिटमे रहते है वहीँ यूजीसी ने जहाँ 44 करोड़ जारी किये हैं तो वहीँ आगे के प्रोजेक्टन के लिए पीयू को यूजीसी ने हिदायत की है तो वहीँ पीयू ने भी आत्मिक मंथन शुरू कर दिया दूसरी तरफ छात्रों के लिए बुरी खबर है की परीक्षा व् ट्यूशन फीस बढ़ना तय है.
V/O:पंजाब यूनिवर्सटी लगातार वित्त संकट के चलते करोड़ों रु के वित्त संकट से जूझ रही है तो वहीँ दूसरी तरफ एमएचआरडी से ग्रांट को लेकर पीयू की तरफ से कोशिशें जारी है जिसमे जहाँ यूजीसी की तरफ से 44 करोड़ की ग्रांट जारी की गई है जिसमे कुछ मुश्किलें कम हुई है लेकिन आगे फिर से बढ़ रही हैं वहीँ अपनी जरूरतों और प्रोजेक्ट को लेकर वित्त मंत्रालय के पास बजट बढ़ोतरी की मांग रख चूका है जिसमे एमएचआरडी की तरफ से सिफारिश बाकि है तो यूजीसी ने पीयू को अपनी जरूरतों और प्रोजेक्ट का खर्च कम करने के लिए रिपोर्ट दाखिल करने को कहा हैजिसके लिए मीटिंग कर पीयू अंतिमिक मंथन शुरू क्र दिया है और सभी पीयू सदस्यों से सुझाव मांगे हैं व् खर्च कम करने के लिए सहयोग माँगा है.
Bite:अरुण ग्रोवर (वीसी पंजाब यूनिवर्सटी)
:पीयू की तरफ से पत्र लिख कर पंजाब सर्कार से भी ग्रांट बढ़ाने की मांग की है ताकि 2013-14 वर्ष के बाद ग्रांट बढ़कर दे जिससे पीयू का वित्त संकट दूर हो सके साथ ही इस बीच पीयू में परीक्षा फीस व् ट्यूशन फीस बढ़ना यह हो चूका है जिसमे छात्रों के लिए परेशानी बढ़ेगी .
Bite:अरुण ग्रोवर (वीसी पंजाब यूनिवर्सटी)
पीयू प्रशासन की तरफ वित्त संकट के सुधरने के लिए कदम उठाने शुरू कर दिए हैं जिसमे सबका सहयोग माँगा है तो वहीँ परीक्षा गुणवत्ता को बढ़ाने की भी तयारी शुरू कर दी है जिससे अगर बच्चों को थोड़ी जायद फीस देने पड़े तो उन्हें निजीं संस्थानों के सामने पीयू की फीस जायद न लगे .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here