जिला स्तरीय वरिष्ठ नागरिक दिवस बचत भवन में आयोजित

0
586

शिमला 1 अक्तूबर,ऑय 1 न्यूज़ ब्यूरो
अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस के अवसर पर आज जिला स्तरीय कार्यक्रम बचत भवन में आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अतिरिक्त उपायुक्त डी के रतन ने उपस्थित वरिष्ठ नागरिकों को सम्बोधित करते हुये कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के कल्याणार्थ विभिन्न योजनाएं चलाई गई हैं, ताकि उन्हें आर्थिक सुरक्षा प्रदान कर समाज में सम्मानपूर्वक जीवनयापन के लिए किसी पर निर्भर न रहना पड़े। डी के रतन ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा 60 वर्ष से 79 वर्ष तक आयुवर्ग के पात्र वृद्धों को 650 रूपए तथा 80 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग के लिए 1200 रूपए प्रतिमाह पैंशन देने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि अपनी संतान से पीड़ित माता-पिता, वरिष्ठ नागरिक भरण-पोषण अधिनियम के अंर्तगत कार्यवाही कर न्याय प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने वरिष्ठ नागरिकों की विभिन्न समस्याओं के समाधान करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर वरिष्ठ नागरिकों ने अपनी विभिन्न समस्याओं के बारे में अवगत कराया तथा अपने अनुभव भी सांझा किए। केशु राम गर्ग, जिला कल्याण अधिकारी ने सभी अतिथियों का स्वागत किया।
इस अवसर पर दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल की चिकित्सक डॉ. नमिता वर्मा ने कार्यक्रम के दौरान वृद्धावस्था में होने वाले रोगों से सावधानी बरतने बारे विस्तृत जानकारी दी। कुमारी जागृति शर्मा ने फिजीयोथैरेपी के द्वारा वृद्धावस्था में उत्पन्न विभिन्न रोगों के उपचार के बारे में बताया। हेल्पेज इंडिया के प्रोजेक्ट अधिकारी दिवेश ने संस्था द्वारा वृद्धों के कल्याण के लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला संजोली की छात्रा कु. राजकुमारी वर्मा ने परिवार में बजुर्गों के महत्व के बारे में अपना वक्तव्य प्रस्तुत किया। इससे पूर्व, रिज मैदान से उपायुक्त कार्यालय परिसर तक वृद्धां व स्कूली छात्रों की रैली को सहायक उपायुक्त ईशा ठाकुर ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रेली के माध्यम से स्कूली छात्रों द्वारा समाज में बजुर्गो के आदर व सम्मान का संदेश दिया गया। इस अवसर पर एम.आर.ठाकुर, अध्यक्ष, डी.आर.वर्मा, महासचिव सीनियर सिटीजन फोरम शिमला, हरीचंद गुप्ता, महासचिव पैंशनर्ज एसोसियेशन के अतिरिक्त अन्य वरिष्ठ नागरिक व स्कूली छात्र उपस्थित थे।