राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष जी.आर. मुसाफिर ने जिले के अधिकारियों को निर्देश दिए

0
809

ऑय 1 न्यूज़ ब्यूरो सोलन दिनांक 27.09.2016
राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष जी.आर. मुसाफिर ने जिले के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि विभिन्न योजनाओं को समय पर पूरा करें ताकि लोग इनसे लाभान्वित हो सकें एवं योजनाओं की लागत में भी वृद्धि न हो। मुसाफिर आज यहां विभिन्न राज्य योजनाओं की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। जी.आर. मुसाफिर ने कहा कि गत साढ़े तीन वर्षो में प्रदेश सरकार ने सोलन जिले में अरबों रूपये की योजनाएं आरम्भ की हंै। इस समयावधि में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा ही लगभग 100 करोड़ रुपये तथा लोक निर्माण द्वारा लगभग 111 करोड़ रुपये की विभिन्न योजनाएं या तो समर्पित कर दी गई हंै अथवा इनका कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि इन सभी योजनाओं का उद्देश्य लोगों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाना है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि निर्माण कार्यों में पूरी पारदर्शिता बनाए रखी जाए एवं गुणवत्ता के साथ कोई समझौता न किया जाए। उन्होंने कहा कि यह बैठक प्रत्यक्ष रूप से जनहित एवं विकास से जुड़ी है तथा अधिकारियों के सुझाव प्रदेश सरकार द्वारा ध्यान में रखे जाएंगे। राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष ने कहा कि सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, विद्युत आपूर्ति, पेयजलापूर्ति एवं स्वास्थ्य सेवाओं का लोगों को उनके घर-द्वार पर उपलब्ध करवाया जाना आवश्यक है। इस उद्देश्य की पूर्ति में अधिकारी एवं कर्मचारी महत्त्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के कर्मचारी प्रशासन और जनता के मध्य महत्त्वपूर्ण कड़ी हैं तथा इनके सहयोग से ही निर्धन व्यक्ति तक कल्याणकारी योजनाओं के लाभ सुनिश्चित बनाए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न सिंचाई एवं पेयजल योजनाओं को विद्युत बोर्ड द्वारा नियमित विद्युत आपूर्ति प्रदान की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि जिले में विभिन्न विभागों में अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कमी को शीघ्र दूर करने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों को वन विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर वन स्वीकृतियां शीघ्र प्राप्त करने की दिशा में कार्य करना चाहिए ताकि निर्माण कार्यों में देरी न हो। उन्होंने कहा कि योजाओं के लिए निजी भूमि हस्तांतरण के मामलों में स्थानीय पंचायतों को शामिल किया जाना चाहिए ताकि आपसी विश्वास व सौहार्द के साथ भूमि हस्तांतरित हो सके।जी.आर. मुसाफिर ने कहा कि मुख्यमन्त्री द्वारा सोलन जिले में किए गए विकास कार्यों को भी समय पर पूरा किया जाए। राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष ने कहा कि राजकीय स्नातकोतर महाविद्यालय सोलन में एक करोड़ 58 लाख रुपए की लागत से वाणिज्य खण्ड, सायरी में 5 करोड़ रुपए की लागत से सामुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र का निर्माण कार्य शीघ्र शुरू किया जाएगा। उन्होेंने खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग को निर्देश दिए कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत लोगों को खाद्य वस्तुएं समय पर उपलब्ध करवाई जाएं।बैठक में जानकारी दी गई कि सोलन की 2388 बस्तियों एवं गांवों में से 1892 को सड़क सुविधा प्रदान कर दी गई है जबकि सभी 211 पंचायतों को सम्पर्क सुविधा प्राप्त है। जिले में कुल 16037 पात्र व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन प्रदान की जा रही है। इनमें 2175 पैंशनधारकों की आयु 80 वर्ष अथवा उससे अधिक है। कौशल विकास भत्ता योजना के अन्तर्गत अभी तक सोलन जिले के 7785 व्यक्तियों को प्रशिक्षण प्रदान किया जा चुका है। सोलन जिले के 1281 आगंनवाड़ी केन्द्रों में लगभग 33000 बच्चों को पोषाहार उपलब्ध करवाया जा रहा है। उपायुक्त सोलन राकेश कंवर ने इस अवसर पर मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए विश्वास दिलाया कि जिले में विभिन्न कार्यों की गुणवत्ता एवं पारदर्शिता सुनिश्चित बनाई जा रही हेै तथा अधिकारी एवं कर्मचारी पूर्ण निष्ठा के साथ कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न दिशा-निर्देर्शों का पालन किया जाएगा। अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी संदीप नेगी ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया। बैठक में जिले के सभी उपमण्डलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी तथा वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here