जिला शहीद भगत सिंह नगर के क़स्बा पोजेवाल के गांव नवा ग्रा आदर्श स्कूल में आधियापक अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे है

0
710

अमित सेठी २९-08-२०१६

जिला शहीद भगत सिंह नगर के क़स्बा पोजेवाल के गांव नवा ग्रा आदर्श स्कूल में आधियापक अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे है । स्कूल कमेटी की तरफ से अध्यापको को ससपेंड करने के कारण दो अधयापक मारन व्रत और कई आधियापक भूख हड़ताल पर बैठे है। मारन व्रत पर बैठे दो अधियापको की हालत काफी गभीरं बनी हुई हैं। स्कूल कमेटी और प्रशाशन का कोई भी अधिकारी उनसे बात करने के लिए स्कूल नही पहुंचा। जिला शिक्षा अधिकारी  दिलबाग सिंह ने कहा की मै अपनी टीम लेकर जा रहा हु उन की समस्याओ को सीनीयर अधिकारी तक पहुचाया जाऐगा। गौरतलब है के पोजेवाल के नवागराँ  एफसीएस आदर्श स्कूल में अपनी मांगों को लेकर मरनव्रत और भूखहड़ताल पर बैठे है। जिला शहीद भगत सिंह नगर के दो स्कूल ऍफ़ सी एस कमेटी की तरफ से चलाए जा रहे है। एक स्कूल में लगभग 2000 विदियार्थी पड़ते है जिनको पड़ने के लिए 100 के करीब टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ है । हड़ताल पर बैठे अधियपको कि मांग है के उनको सीबीएसी की ग्रेड के अनुसार तनखा नही दी जा रही । स्कूल अध्यापको ने कमेटी के पास कई बार इस बात को उठाया है और पहले भी मरन व्रत पर बैठे है कमेटी ने पहले मांगे मान कर मरणव्रत को खत्म करवाया था लेकिन अब कमेटी उस वादे से मुकर रही है उनका कहना है के सरकार की तरफ से स्कूल कमेटी को 70 प्रतिशत पैसे दिए जाते है और कमेटी ने अपनी तरफ से 30 प्रतिशत खर्च करना होता है लेकिन कमेटी वह भी नहीं कर रही उनका कहना है के बचो की पढ़ाई न खराब हो इस लिए हमने छुट्टी के दिनों में हड़ताल शुरू की है । अधियपको ने कहा को जो अधयापक कमेटी के खिलाफ अपनी  आवाज उठाते है कमेटी उन्हें ससपेंड क्र देती है ।उन्होंनो ने मांग की के जब तक हमारी तन्खा सीबीएसी ग्रेड के अनुसार हमारे अकाउंट में नही आती तब तक हम मरन व्रत ऐसे ही जारी रखेंगे ।

बाईट : विनीत अरोरा   अधयापक

बाईट : सरिता कुमारी (अधियापिका)

अधियपको के समर्थन में नवागरा सरपंच ने कहा कि कमेटी कई बार इनकी मांगों की मानने के बाद मुकर चुकी है उन्होंनो ने कहा कि इससे हमारे बच्चो  की पढ़ाई पर असर पड़ रहा है उन्होंनो ने सरकार से मांग की के इनकी मांगो की तरफ सरकार को गम्बीरता से धियान देना चाहिए अगर इनकी तरफ धयान न दिया गया तो हम स्कूल कमेटी के चंडीगढ़ दफ्तर के आगे भी धरना देंगे । जब इस मामले के बारे में जिला शिक्षा अधिकारी से बात की तो उन्होंनो ने कहा कि हमारे जिले में इस कम्पनी के दो स्कूल है सर्कार की तरफ से इन्हें 70 प्रतिशत खर्च दिया जाता है लेकिन यह फिर भी अध्यापको को पूरी तन्खा नही देते आज हमारे धियान में यह अध्यापको के मरन व्रत की बात आयी है  हम तुरंत इसकी जांच के लिए स्कूल में जा रहे है जो भी तथ्य सामने आये उसके सम्भन्द में रिपोर्ट सरकार को भेजी जाएगी । जिला शिक्षा अधिकारी  दिलबाग सिंह ने कहा की मै अपनी टीम लेकर जा रहा हु उन की समस्याओ को सीनीयर अधिकारी तक पहुचाया जाऐगा।

बाईट :  दिलबाग सिंह जिला शिक्षा अधिकारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here