श्री सोमेश गोयल, महानिदेशक पुलिस, कारागार एवं सुधार सेवाएं हिमाचल प्रदेश ने आज जिला सुधार गृह शिमला, कैथू में सुधार गृह उत्पाद प्रदर्शन एवं विक्रय केंद्र ‘पहल’ का शुभारंभ किया।

0
715
आई 1 न्यूज़  ब्यूरो रिपोट शिमला, 11 अगस्त
श्री सोमेश गोयल, महानिदेशक पुलिस, कारागार एवं सुधार सेवाएं हिमाचल प्रदेश ने आज जिला सुधार गृह शिमला, कैथू में सुधार गृह उत्पाद प्रदर्शन एवं विक्रय केंद्र ‘पहल’ का शुभारंभ किया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक कारागार श्री राजेंद्र सिंह भाटिया व अधीक्षक जेल व सहायक आयुक्त श्रीमती ईशा ठाकुर भी उपस्थित थी। इस विक्रय केंद्र में बंदियों द्वारा बनाए गए विभिन्न उत्पाद विक्रय एवं प्रदर्शन के लिए उपलब्ध होंगे।श्री सोमेश गोयल ने कहा कि बंदियों के जीवन में व्यापक स्तर पर सुधार लाने के लिए सुधार गृहों में कई परिवर्तन लाए जा रहे हैं। इसी के तहत सुधार गृहों में विभिन्न तरह के सृजनात्मक कार्य आरंभ किए गए, ताकि बंदियों और उनके परिवारजनों को भी सहायता मिल सके। उन्होंने कहा कि जेल प्रशासन का यह प्रयास है कि हिमाचल प्रदेश में जल्द ही जेलों में बंदियों द्वारा पशमीना शाॅल का उत्पादन आरंभ किया जाए, इसके लिए जरूरी प्रक्रिया आरंभ की जा चुकी है। विभिन्न कारागर गृहों में हैंडलूम की फैक्टरियों को दो शिफ्टों में काम की योजना भी तैयार की जा रही है।कारागार गृहों में बनाए जा रहे उत्पाद लोगों में खासे लोकप्रिय हो रहे हैं और इनकी गुणवत्ता भी बहुत अच्छी है। कई स्थानों पर ड्राईक्लीनिंग व कार वाशिंग पर कार्य भी आरंभ किया गया है। बंदियों के जीवन में सकारात्मक प्रभाव लाने के लिए उन्हें संगीत का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।
श्री सोमेश गोयल ने कहा कि यह प्रयास किया जा रहा है कि शीघ्र ही चंडीगढ़ में बंदियों की संगीत संध्या आयोजित की जाए, जिसमें बंदियों द्वारा विभिन्न तरह की सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी जाएगी। सुधार गृह कैथू में आरंभ किए गए प्रदर्शन एवं विक्रय केंद्र ‘पहल’ की तरह के केंद्र धर्मशाला, नाहन व सोलन में भी खोले जाने की योजना है, साथ ही खड्डी का एक सेंटर ऊना में भी आरंभ किया जाएगा।पुलिस अधीक्षक कारागार एवं सुधार सेवाएं श्री राजेंद्र सिंह भाटिया ने कहा कि यह प्रयास किया जा रहा है कि कैदियों के जीवन में सकारात्मक सोच लाने के लिए ऐसे कार्यक्रम आरंभ किए जाएं, जो जीवन को सार्थकता की ओर ले जाने में प्रेरित करें।
अधीक्षक जेल व सहायक आयुक्त, श्रीमती ईशा ठाकुर ने कहा कि पहल विक्रय एवं प्रदर्शन केंद्र में गुणात्मक उत्पाद उपलब्ध करवाए गए हैं। उन्होंने लोगों से इन उत्पादों को क्रय करने का आह्वान करते हुए कहा कि प्रारंभिक चरण में इस केंद्र में बेकरी व हस्तशिल्प आधारित उत्पाद उपलब्ध करवाए जाएंगे। इस अवसर पर अधीक्षक जेल श्री शेर चंद शर्मा, कारागार एवं सुधार सेवाओं के वरिष्ठ अधिकारी और अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here