सरसा नदी तटीकरण के लिए प्रथम चरण में 50 लाख रुपये स्वीकृत: मुकेश अग्निहोत्री

0
500

30 जुलाई  नालागढ़ सोलन अमित सेठी  सरसा नदी तटीकरण के लिए प्रथम चरण में 50 लाख रुपये स्वीकृत: मुकेश अग्निहोत्री  उद्योग, श्रम एवं रोज़गार तथा सूचना एवं जन सम्पर्क मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार नालागढ़ क्षेत्र की सरसा नदी के तटीकरण के लिए गंभीर है और इस कार्य के लिए प्रथम चरण में 50 लाख रुपये उपलब्ध करवाए गए हैं। मुकेश अग्निहोत्री गत सांय नालागढ़ की ग्राम पंचायत किरपालपुर में एक जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि सरसा नदी तटीकरण के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार की जा रही है। उन्होंने कहा कि सरसा नदी तटीकरण समूचे क्षेत्र के लिए वरदान सिद्ध होगा। ऊना ज़िले में स्वां नदी तटीकरण के लाभदायक परिणाम सभी के सामने हैं। उन्होंने कहा कि नालागढ़ एवं बद्दी क्षेत्र में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाआंे पर 183 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ क्षेत्र में अधोसंरचना निर्माण पर 100 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। उद्योग मंत्री ने कहा कि बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ क्षेत्र के विकास के लिए प्राधिकरण बनाया गया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने इस प्राधिकरण को विकास का जरिया बनाया है। बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ विकास प्राधिकरण शहरों के साथ-साथ क्षेत्र के गांवों का विकास भी सुनिश्चित बना रहा है। उन्होंने प्राधिकरण को निर्देश दिए कि विकास के लिए प्रदान की गई धनराशि को शीघ्रातिशीघ्र विकास कार्यों पर व्यय करें। आवश्यकतानुसार और अधिक धनराशि उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में विकास कार्यों में गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं होना चाहिए। समूचे क्षेत्र में वर्षाशालिका, शौचालय, पार्क, जल योजनाओं एवं सौन्दर्यकरण पर ध्यान दिया जा रहा है। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ क्षेत्र प्रदेश का प्रमुख औद्योगिक क्षेत्र है और इसे हरा-भरा एवं प्रदूषणमुक्त रखने पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विकास का लक्ष्य सामाजिक-आर्थिक उत्थान है एवं विकास में राजनीतिक विचारधारा को आड़े नहीं आने दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार विकास में विश्वास रखती है और सभी किए गए वायदों को निर्धारित समय सीमा में पूरा किया जाएगा। उद्योग मंत्री ने युवाओं से आग्रह किया कि वे महत्वाकांक्षी कौशल विकास भत्ता योजना का लाभ उठाएं। अभी तक इस योजना से प्रदेश में 1 लाख 62 हजार 615 युवा लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने कहा कि 16 से 35 वर्ष आयुवर्ग के युवा योजना का लाभ उठा सकते हैं। मिस्त्री, बढई, लोहार एवं पलम्बर इत्यादि के लिए इस योजना के तहत कोई शैक्षणिक योग्यता निर्धारित नहीं की गई है। उन्होंने इस अवसर पर नवाग्राम ग्राम पंचायत के सौड़ी गुलाबपुरा गांव में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग की सिंचाई योजना के लिए 10 लाख रुपये स्वीकृत किए। यह धनराशि बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ प्राधिकरण द्वारा उपलब्ध करवाई जाएगी। दून के विधायक राम कुमार चैधरी ने इस अवसर पर कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा पूरे प्रदेश का एक समान विकास सुनिश्चित बनाया जा रहा है। गत साढ़े तीन वर्षों में दून एवं नालागढ़ विधानसभा क्षेत्रों का अथाह विकास हुआ है। हिमाचल प्रदेश सन्निर्माण एवं अन्य कामगार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष हरदीप बावा ने इस अवसर पर नालागढ़ एवं बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ क्षेत्र में लगभग 11 करोड़ रुपये की योजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास के लिए उद्योग मंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में लगभग 31 करोड़ रुपये की योजनाओं के शिलान्यास वर्तमान में रखे गए हैं। इन योजनाओं का निर्माण कार्य शीघ्र ही आरम्भ कर दिया जाएगा। उन्होंने सौड़ी गुलाबपुरा सिंचाई योजना के लिए 10 लाख रुपये उपलब्ध करवाने के लिए भी आभार व्यक्त किया।ग्राम पंचायत किरपालपुर के प्रधान गुरप्रताप ने मुख्यातिथि का स्वागत किया एवं क्षेत्र के विकास की जानकारी प्रदान की। ज़िला परिषद सोलन के अध्यक्ष धर्मपाल चैहान, नगर परिषद नालागढ़ के अध्यक्ष महेश गौतम, नगर परिषद बद्दी के अध्यक्ष मदन चैधरी, ज़िला परिषद सदस्य उजागर चैधरी, खण्ड कांग्रेस नालागढ़ के अध्यक्ष असीम शर्मा, बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ललित जैन, उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ हरिकेश मीणा, उप पुलिस अधीक्षक नालागढ़ डाॅ. साहिल अरोड़ा, विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी, अन्य गणमान्य व्यक्ति एवं बड़ी संख्या में लोग इस अवसर पर उपस्थित थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here