वर्दी वाला गुंडा पहले महफिल में शराब पी, फिर र्इंटों से किया वार, अंत में कहा मेरा दोस्त है।

0
899

वर्दी वाला गुंडा पहले महफिल में शराब पी, फिर र्इंटों से किया वार, अंत में कहा मेरा दोस्त है।

पुलिस मुलाजिम की करतूत, शराब पीते-पीते किया झगड़ा। चंडीगढ़ पुलिस में तैनात एक पुलिसकर्मी महफिल में शराब पीते-पीते अन्य लोगों से उलझ गया और नौबत यहां तक आ गई कि उसने एक व्यक्ति के माथे पर ईंटों से दो-तीन वार कर दिए और वहां से फरार हो गया। फिलहाल पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने में बुलाया है और दोनों के ब्यानों के बाद ही पुलिस बनती कार्रवाई करेगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार सैक्टर-15 की मार्किट में कपड़ों की दुकान पर काम करने वाले राजेश कुमार ने बताया कि वीरवार  रात करीब  9.47 पर वह सैक्टर-4 में पानी की टैंकी के पास अपने दो दोस्तों के साथ खड़ा था। इसी दौरान वहां पर हैड कांस्टेबल सुबे सिंह आ गया जो उसे पहले से जानता भी था।  सुबे ने उसे कहा कि शराब मंगवा लो तो चारों ने पैसे डालकर सैक्टर-9 से दो बोतलें शराब की ली और फिर महफिल सैक्टर-4 में ही जमी। सभी ने शराब पी और वहां किसी बात को लेकर सुबे उससे बहस करने लग गया और सुबे ने उसके मुंह पर तीन-चार थप्पड़ जड़ दिए। इसी बीच जब सभी ने विरोध किया तो मामला निपटा लिया गया, लेकिन शराब पीने के बाद जब रात को सभी जाने लगे तो सुबे ने वहां पड़ी ईंट उठाई और राजेश पर दो -तीन वार कर दिए। जिससे राजेश लहूलुहान होकर वहां गिर गया। इसके सूबे सिंह वहां से फरार होने में कामयाब हो गया। राजेश ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम नंबर-100 पर दी। जिसके बाद पीसीआर की जिप्सी उसे लेकर सैक्टर-16 के अस्पातल में पहुंची। जहां उसके टांके भी लगे। शुक्रवार को सुबह राजेश दोबारा से थाना दोपहर करीब 12 बजे शिकायत देने पहुंचा तो उसे शाम 5 बजे आने के लिए कहा गया। शाम को फिर पुलिस ने दोनों पक्षों के ब्यान दर्ज किए और जांच शुरू कर दी।
ड्यूटी डाक्टर ने दी गालियां: पीडि़त
राजेश ने बताया की   एमरजैंसी में ड्यूटी डाक्टर सन्नी महता ने उससे बद्तमीजी की और उसका पूरा ईलाज भी करना ठीक न समझा और ऊपर से उसे गालियां भी दी। अस्पताल में सैक्टर-3 थाने के जांच अधिकारी एएसआई कुलदीप ने राजेश के ब्यान भी दर्ज किए और फिर जब पुलिस सैक्टर-4 पहुंची तो वहां पर सूबे सिंह नहीं मिला।
वीओ : 2

राजेश मेरा दोस्त है… जब हैड कांस्टेबल सूबे सिंह से पूछा गयर कि आखिर रात को शराब पीते-पीते एेसी क्या बात हुई जो इतना झगड़ा बढ़ गया तो उसने कैमरे के आगे कुछ भी कहने से इंकार कर दिया और बस इतना ही कहा कि राजेश मेरा दोस्त है।

बाइट : पीड़ित  राज कुमार

बाइट: 2  नीरज सरना, एसएचओ थाना-3

रात को पुलिस को सूचना मिली थी कि हैड कांस्टेबल का किसी के साथ झगड़ा हुआ है। पुलिस दोनों पक्षों के ब्यान दर्ज कर रही है। मामले में जो भी कार्रवाई के अनुसार मामला दर्ज करलिया जाइए गा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here