पंजाब के गुरदासपुर जिले के एक गांव में छेड़छाड़ का विरोध करने पर दो युवकों ने आठवीं कक्षा की छह छात्राओं पर तेजाब फेंक

0
483

ब्यूरो आई 1 न्यूज़

पंजाब के  गुरदासपुर जिले के एक गांव में छेड़छाड़ का विरोध करने पर दो युवकों ने आठवीं कक्षा की छह छात्राओं पर तेजाब फेंक दिया। इससे छात्राएं बुरी तरह झुलस गईं, एक छात्रा प्रभजोत की हालत नाजुक बनी हुई है। उसे इलाज के लिए अमृतसर के गुरु नानकदेव अस्पताल ले जाया गया है।

पांच छात्राओं को इलाज के बाद घर भेज दिया गया है। वारदात जिले के कस्बा डेरा बाबा नानक क्षेत्र में अंजाम दी गई। आरोपी युवक स्कूल से लौटते समय छात्राओं से छेड़छाड़ कर रहे थे। प्रभजोत ने इसका विरोध किया तो उन्होंने छात्राओं पर तेजाब फेंक दिया।

एक की हालत नाजुक, स्कूल से लौटते समय करते थे छेड़छाड़   सिंहपुरा के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में पढ़ने वाली प्रभजोत पर उसी के स्कूल से निकाले गए एक पूर्व छात्र और उसके एक साथी ने एसिड फेंका। इस घटना में प्रभजोत की पांच सहेलियां भी आंशिक तौर पर झुलस गईं। सभी छात्राएं पास के ही गांव धरमाबाद की रहने वाली हैं। बुधवार को स्कूल में परीक्षा थी। परीक्षा खत्म होने के बाद छात्राएं स्कूल से बाहर निकलीं तो रास्ते में खड़े में दो युवकों ने उनसे छेड़छाड़ शुरू कर दी। वे फब्तियां कस रहे थे। उनकी इस हरकत का प्रभजोत ने विरोध किया। इस पर गुस्साए दोनों युवकों ने उस पर तेजाब फेंक दिया। इससे वह बुरी तरह झुलस गईं और उसके साथ जा रहीं अन्य पांच छात्राएं भी इसकी जद में आ गईं। सभी को तुरंत गुरु नानक सिविल अस्पताल ले जाया गया। वहां उन्हें प्राथमिक उपचार देकर बटाला रेफर कर दिया गया। बाद में प्रभजोत की हालत गंभीर होने के कारण अमृतसर के गुरु नानक देव अस्पताल रेफर कर दिया गया। अन्य लड़कियां मामूली रूप से झुलसी थीं और उन्हें इलाज के बाद घर भेज दिया गया। प्रभजोत का अमृतसर के गुरु नानक देव अस्पताल में इलाज चल रहा है।
हमले पर शिक्षामंत्री ने लिया नोटिस, सरकार कराएगी इलाज

हमले पर शिक्षामंत्री ने लिया नोटिस, सरकार कराएगी इलाज
गुरदासपुर के गांव सिंघपुरा के सरकारी स्कूल की छात्रा प्रभजोत कौर पर तेजाबी हमले का शिक्षामंत्री डॉ. दलजीत चीमा ने नोटिस लिया है। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी को हिदायत दी है कि छात्रा के इलाज के लिए पचास हजार रुपये की राशि तुरंत दी जाए। स्कूल से लौटते समय प्रभजोत पर तेजाब फेंका गया था। डॉ. चीमा ने वहां के डीसी से बात कर विशेष इंतजाम करने को कहा। अमृतसर के डीईओ को तुरंत पचास हजार रुपये जारी करने की हिदायत दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here