रॉक गार्डन में नेक चंद के बेटे का अपमान

0
528

चंडीगढ़

२४-०१-२०१६ अमित सेठी

चंडीगढ़ में  के निर्माता  स्वर्गीय नेक चंद के बेटे अनुज सैनी को अवस्था के चलते उस वक्त शर्मसार होना पड़ा जब प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्टपति के पहुचने से पहले ही उन्हें पीएमओ आफिस से आए सुरक्षा कर्मियों ने बाहर निकाल दिया । इससे पहले अनुज सैनी को चंडीगढ़ प्रशासन ने मुख्य तोर पर प्रधान मंत्री एवं फ्रांस के राष्टपति का स्वागत करने के लिए बुलाया गया था । रॉक गार्डर्न को देखने विशेष तोर पर फ्रांस के राष्टपति चंडीगढ़ पहुंचे थे। मगर इस ऐतिहासिक पल को यादगार बनाने के लिए कई दिनों से मेहनत में जुटे पद्मश्री स्वर्गीय नेक चंद के बेटे अनुज को जब रॉक गार्डर्न से बाहर निकाल  दिया गया। जिससे वह बहुत निराश हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति 50 वर्षों बाद चंडीगढ़ आए हुए थे। यही नहीं पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति का एक साथ चंडीगढ़ आना सभी के लिए गर्व की बात थी हर कोई अपनी तरफ से तैयारियों में जुटा था कि किस तरह पीएम और फ्रांस के राष्ट्रपति का स्वागत किया जाए। कुछ ऐसा ही स्वागत करने के तैयार खड़े थे अनुज सैनी। अनुज सैनी राॅक गार्डन के निर्माता स्वर्गीय नेकचंद के सुपुत्र हैं। वह पिछले एक हफ्ते दोनों महानुभावों की राॅक गार्डन विजिट के दौरान उनका विशेष तौर पर स्वागत की तैयारियां किए बैठे थे। यहीं नहीं दोनों ही श्रेष्ठ लीडरों को वह अपनी तरफ से एक खास तोहफा भी देना चाहते थे ताकि इस विजिट को और यादगार बनाया जा सके। लेकिन आज का दिन उनके लिए काफी निराशाजनक रहा। वह जहां पीएम मोदी व फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वां ओलांद के स्वागत के लिए राॅक गार्डन के फेज 3 में स्वागत करने की पंक्ति में खड़े थे। वहां से उन्हें निकाल दिया गया। हालाकिं जिस तरह से अनुज सैनी को बाहर निकाला गया उसके बाद चंडीगढ़ प्रशासन के हाथ पैर फूलना स्वाभाविक है जिसके बाद प्रशाशनिक अधिकारी लगतार अनुज व् उनके साथियों को फ़ोन कर माफ़ी मांग रहे है लेकिन पहले जो अव्यवस्था अपनाइ गई उसके लिए जिम्मेवारी लेने के लिए कोई तैयार नही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here